सीटें बढ़ने का होगा फायदा:नीट-यूजी में ऑल इंडिया रैंक 25 हजार पर सरकारी काॅलेज

राजसमंद (कांकरोली)2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजसमंद| नीट यूजी में सफल रहे जनरल पुरुष विद्यार्थी को 25 हजार की रैंक पर भी सरकारी कॉलेज में सीट मिल जाएगी। पिछली बार 21 हजार रैंक पर सरकारी कॉलेज मिला था। देश में इस बार करीब 5900 सीट बढ़ी है। अब 97,293 सीट पर प्रवेश हाेंगे। वहीं, कुछ कॉलेज में एलओपी जारी होने से सीटें एक लाख होने की संभावना है। पिछली बार 91 हजार 940 पर प्रवेश हुए थे। मेडिकल एक्सपर्ट परिजात मिश्रा ने बताया कि नगरकुरनूल, संगरेड्डी, पश्चिम बंगाल के बारासात, आसाम के डुबरी, छत्तीसगढ़ के महासमुंद, कोरबा, गुजरात के मोरबी, गोधरा, पोरबंदर, हरियाणा के फरीदाबाद, कर्नाटक के चिकमंगलूर, मणिपुर के चोराचांदपुर, उडीसा के क्योंझर, सुंदरगढ़, तेलंगाना के वनापर्थी, भद्रादरी कोठागुडम, जगित्याल, महबूबाबाद में कॉलेज शुरू हुए हैं। इनमें एमबीबीएस की पांच हजार से अधिक सीटें हैं। प्रदेश में इस सत्र में चार नए मेडिकल कॉलेज शुरू किए गए हैं। इनमें चित्तौड़गढ़, धौलपुर, सिरोही और श्रीगंगानगर शामिल हंै। इनमें 400 सीटों का इजाफा हुआ है। इन सरकारी कॉलेजों को नेशनल मेडिकल कमिशन ने एलअाेपी दे दी है। इसके साथ प्रदेश में एमबीबीएस के लिए 3200 सीटें हो गई हैं। इनमें कोटा मेडिकल कॉलेज की 250 शामिल हैं। नीट यूजी में 9 लाख से अधिक विद्यार्थी सफल रहे हैं। परिणाम घोषित हुए काफी समय हो गया, लेकिन काउंसलिंग शुरू नहीं की गई।

खबरें और भी हैं...