राजसमंद में साइबर थाने की शुरुआत:ठगी की वारदातें रोकने SP ऑफिस में खोला नया थाना

राजसमंद10 दिन पहले
राजसमंद में साइबर थाने का शुभांरभ। 

साइबर क्राइम के बढते मामलों ओर राज्य सरकार के निर्देश मिलने पर मंगलवार को राजसमंद में साइबर थाने का जिला पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने शुभारंभ किया गया।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय के भू-तल पर कमरा नम्बर 108 व 109 में शुरू किए गए साइबर थाने के थानाधिकारी राजसमंद डिप्टी बेनी प्रसाद मीणा होंगे। इसके अलावा साइबर थाने में काम करने वाले पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों को साइबर सम्बन्धी अपराधों की जांच एवं इससे जुड़े अन्य पहलुओं की प्रशिक्षण जयपुर में दिया जा रहा है।

इस अवसर पर राजसमंद जिला पुलिस अधीक्षक ने साइबर क्राइम की जानकारी देते हुए बताया कि साइबर क्राइम की रोकथाम व अपराधियों को पकड़ने के लिए थाने की स्थापना की गई है। साथ ही उन्होंने अपील की कि सोशल मीडिया पर आने वाले फेक मैसेज को इग्नोर करें।

साइबर थाने पर सरकारी वेबसाइट की हैकिंग, सरकारी डिजिटल डेटा से छेडछाड़, चारी, चाइल्ड पोर्नोग्राफी, साइबर टिपलाइन से संबधित रिपोर्ट प्राप्त कर कार्यवाही की जाएंगी। इसके अलावा आईटी एक्ट के तहत होने वाले अपराधों, आर्म्स एक्ट, पासपोर्ट एक्ट के तहत शिकायतें प्राप्त कर अनुसंधान किया जाएगा।

आमजन से की अपील

ठगी होने पर टोल फ्री नम्बर डायल करें - ठगी होने पर नागरिक साइबर हेल्प लाइन नम्बर 1930 पर तुरंत डायल करें। यदि किसी भी शख्स के साथ मोबाइल फोन करके खाता नंबर, आधार नंबर या अन्य जानकारी लेकर रकम निकालना, झूठे लोन का भरोसा देकर ठगी करना, मैसेज कर ठगी करने के लिए झूठे ऐप डाउनलोड करवाना मैसेज देकर ओटीपी नम्बर पूछने जैसी घटना हो तो हेल्प लाइन पर कॉल करके शिकायत दर्ज कराएं।

टोल फ्री नम्बर पर शिकायत के बाद जल्द से जल्द साइबर थाने पर शिकायत दर्ज कराएं - टोल फ्री नम्बर पर शिकायत दर्ज कराने के बाद बिना समय खराब किए सीधे साइबर थाने पहुंच कर अपनी शिकायत दर्ज कराई है। जिले में साइबर ठगी के मामले में वर्ष 2022 में 7,68,291 रुपए परिवादी के खातों में पुनः रिफंड करवाए गए हैं।