हेड कॉन्स्टेबल पर सरेबाजार हमला:राजसमंद के भीम में चौराहे पर ड्यूटी देते समय वारदात, बाजार बंद

राजसमन्द3 महीने पहले

राजसमंद के भीम कस्बे में 6 दिन के अंदर दूसरी बार पुलिसकर्मी पर जानलेवा हमला हुआ है। सोमवार को पुलिस व प्रशासन की व्यापारियों से सहमति बनने के बाद सोमवार को बाजार खुले थे। इसी दौरान दिनदहाड़े बदनौर चौराहे पर ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी पर युवक ने धारदार हथियार से हमला कर दिया। हमले में हेड कॉन्स्टेबल भजेराम का हाथ बुरी तरह जख्मी हो गया। घायल को इलाज के लिए ब्यावर रेफर किया गया है। पुलिस ने इस मामले में गजेंद्र सिंह पुत्र चुन सिंह को गिरफ्तार किया है। वह गुमा का बाडिया, थाना करेडा जिला भीलवाड़ा का रहने वाला है।

राजसमंद के भीम कस्बे में बदनौर चौहारे पर हेड कॉन्स्टेबल पर जानलेवा हमला किया गया। उसे ब्यावर रेफर कर दिया गया है।
राजसमंद के भीम कस्बे में बदनौर चौहारे पर हेड कॉन्स्टेबल पर जानलेवा हमला किया गया। उसे ब्यावर रेफर कर दिया गया है।

इस घटना से एक बार फिर भीम कस्बे में हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। जिला पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी के अनुसार, कुंवाथल पुलिस चौकी पर तैनात भजेराम पर सोमवार दोपहर 3 बजे के आस-पास अज्ञात व्यक्ति ने हमला कर दिया। वह बदनौर चौराहे पर डयूटी दे रहे थे।

बदनौर चौराहे पर इसी जगह हेड कॉन्स्टेबल भजेराम तैनात थे। दोपहर 3 बजे के करीब युवक ने उन पर जानलेवा हमला किया। बचाव करते उनके दोनों हाथ जख्मी हो गए।
बदनौर चौराहे पर इसी जगह हेड कॉन्स्टेबल भजेराम तैनात थे। दोपहर 3 बजे के करीब युवक ने उन पर जानलेवा हमला किया। बचाव करते उनके दोनों हाथ जख्मी हो गए।

गंभीर हालत में एंबुलेंस से भजेराम को ब्यावर के हॉस्पिटल में रेफर किया गया। उदयपुर हत्याकांड के बाद भीम कस्बे में उग्र भीड़ के प्रदर्शन के दौरान पुलिस कॉन्स्टेबल संदीप पर तलवार से हमला किया गया था। इसके बाद कॉन्स्टेबल संदीप को अजमेर रेफर किया था।

पुलिस ने करीब दो दर्जन लोगो को चिन्हित कर गिरफ्तार किया था। तब से भीम का बाजार बंद था। सोमवार से बाजार खुले थे। पुलिस व प्रशासन ने बैठक कर वार्ता की थी और सौहार्द्रपूर्ण वातावरण में दुकानें खोलने पर सहमति बनी थी। बैठक से पहले हनुमान चालीसा का पाठ भी हुआ था।

भीम कस्बा 5 दिन से बंद था। सोमवार को ही बाजार खोलने पर सहमति बनी थी। फिर पुलिस पर हमला हो गया। ऐसे में बाजार फिर से बंद हो गया। पुलिस भी सकते में है।
भीम कस्बा 5 दिन से बंद था। सोमवार को ही बाजार खोलने पर सहमति बनी थी। फिर पुलिस पर हमला हो गया। ऐसे में बाजार फिर से बंद हो गया। पुलिस भी सकते में है।

सोमवार दोपहर राजसमन्द सांसद दीयाकुमारी भी भीम पहुंची थीं। उनके साथ भीम पूर्व भाजपा विधायक हरिसिंह रावत, पुष्कर विधायक सुरेश रावत, आसिन्द विधायक जब्बरसिंह, कुंभलगढ विधायक सुरेन्द्र सिंह राठौड़, ब्यावर विधायक शंकरसिंह रावत, जैतारण विधायक अविनाश गहलोत, राजसमन्द पूर्व विधायक बंशीलाल खटीक सहित कई भाजपा के कार्यकर्ता कार्यालय पहुंचे, जहां सांसद ने घटनाक्रम को लेकर चर्चा की।

सांसद सहित जनप्रतिनिधि भीम उपखण्ड अधिकारी कार्यालय पहुंचे और ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया गया कि सरकार निर्दोष लोगों को झूठे आरोप लगाकर गिरफ्तार कर रही है, यह बंद करें। सांसद ने लोगों से मुलाकात के दौरान उनसे शांति बनाए रखने की अपील की।

राजसमंद के भीम कस्बे में ड्यूटी के दौरान घायल पुलिसकर्मी भजे सिंह। ब्यावर में उसका इलाज चल रहा है।
राजसमंद के भीम कस्बे में ड्यूटी के दौरान घायल पुलिसकर्मी भजे सिंह। ब्यावर में उसका इलाज चल रहा है।
खबरें और भी हैं...