भिरुचि कौशल विकास प्रशिक्षण शिविर:आज के समय का सदुपयोग करना और प्रतिभा को निखारना ही स्काउटिंग की मूल भावना : एसडीएम

राजसमंदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 40 दिवसीय ग्रीष्मकालीन अभिरुचि कौशल विकास प्रशिक्षण शिविर का समापन, सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए

जिला मुख्यालय स्थित राबाउमावि कांकरोली में संचालित 40 दिवसीय ग्रीष्मकालीन अभिरुचि कौशल विकास प्रशिक्षण शिविर का समापन कार्यक्रम के साथ हुआ। जिला संगठन आयुक्त छैलबिहारी शर्मा ने बताया कि समापन समारोह व प्रदर्शनी का उद्घाटन कार्यक्रम बालकृष्ण विद्याभवन राउमावि कांकरोली में हुअा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता डीईअाे सुषमा भाणावत, मुख्य अतिथि एसडीएम डॉ. दिनेश राय सापेला व विशिष्ट अतिथि प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर स्काउट प्रमोद पालीवाल, राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त रोवर डॉ. संजय गौड़, जिला कोषाधिकारी स्काउट मुख्यालय सुभाष पोरवाल, जिला प्रशिक्षण आयुक्त गाइड शीला पोखरना, स्थानीय संघ प्रधान सुमन बाबेल थे। एसडीएम ने कहा कि समय का सदुपयोग करना व प्रतिभा को निखारना ही स्काउटिंग की मूल भावना है।

शिविर संचालक धर्मेंद्र गुर्जर ने शिविर के बारे में जानकारी दी। इसके बाद नृत्य प्रशिक्षिका नेहा कुमावत के निर्देशन में बच्चाें ने मनमोहक प्रस्तुतियां दी। इसके बाद ब्यूटीशियन प्रशिक्षिका हीना साहु के नेतृत्व में बालिकाओं ने मंच पर केट वॉक किया। सहायक संचालक अशाेक वर्मा ने बताया कि शिविर के दौरान आयोजित हुई प्रतियाेगिताअाें के विजेताओं काे प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर संभागियों की तैयार की गई मेकरम, पेंटिंग, सिलाई, वेस्ट से बेस्ट, साफ्ट टॉयज, कम्प्यूटर, ब्यूटीशियन विषय की सामग्रियों की प्रदर्शनी लगाई गई। जिसका डॉ. सापेला ने उद्घाटन किया।

इसके बाद अन्य अतिथियों, अभिभावकों ने बालक व बालिकाओं के कामाें का अवलोकन कर सराहना की। कार्यालय सहायक रोशनलाल रेगर ने बताया कि शिविर के दौरान सेवाएं देने वाले दक्ष प्रशिक्षकों को जिला शिक्षाधिकारी भाणावत ने सम्मानित किया। जिनमें छैल बिहारी शर्मा, धर्मेंद्र कुमार गुर्जर, राकेश सांचीहर, अशाेक वर्मा, रंजना कुमावत चंद्रशेखर पालीवाल, सुरेन्द्र कुमार, दारासिंह, राजेश तैलंग, डिम्पल देवड़ा, पूनम गुर्जर, हीना साहु, नेहा कुमावत, रितिका कुमावत, निलोफर बानू, अभिषेक सेन को प्रशंसा पत्र अाैर स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया।

खबरें और भी हैं...