जमीन की रजिस्ट्री के नाम पर धोखाधड़ी का आरोपी गिरफ्तार:जमीन के लिए 5 लाख रुपए लिए, फिर टालता रहा

राजसमंद2 महीने पहले
जमीन की रजिस्ट्री करवाने के नाम पर धोखाधडी के मामले में राजनगर पुलिस ने 1 को गिरफ्तार किया।

राजनगर पुलिस ने जमीन की रजिस्ट्री करवाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। राजनगर पुलिस थानाधिकारी डॉ हनुवंत सिंह राज पुरोहित के अनुसार आसोटिया निवासी राजा सनाढय (42) ने राजस्व गांव आसोटिया में दीपेन्द्र सिंह की हिस्सेदारी की कृषि भूमि को 6 लाख रुपए में खरीदना तय हुआ।

इसके लिए दिनांक 10.1.2017 को राजा सनाढ्य व दीपेन्द्र सिंह के बीच एग्रीमेंट हुआ। जिसमें 5 लाख रुपए दीपेन्द्र सिंह ने नकद प्राप्त किए व बकाया एक लाख रुपए की राशि 11 माह की अवधि 9.12.2017 को देकर भूमि का पंजीयन कराना तय हुआ।

राजा सनाढ्य ने तय समय से पूर्व 15.11.2017 को बकाया एक लाख रुपए की राशि लेकर रजिस्ट्री करवाने को कहा जिस पर दीपेन्द्र सिंह ने कहा कि अभी तय मियाद में समय बाकी है। अभी पेसे अपने पास रखो। ओर उसके बाद जब दुबारा राजा सनाढ्य पेसे लेकर गया तो फिर से टाल दिया। उसके बाद कोरोना महामारी का बहाना बनाकर भी रजिस्ट्री को लेकर टालता रहा। बाद में अपने एग्रीमेंट से साफ मुकर गया।

जिस पर राजनगर पुलिस थाने में मामला दर्ज हुआ पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आवश्यक रिकार्ड मंगवा कर जांच की गई। राजनगर पुलिस ने दीपेन्द्र सिंह (58) निवासी कांकरोली को से पूछताछ की गई। जिस पर एग्रीमेंट की बात सही पाई गई। पुलिस ने धोखाधड़ी करने पर दीपेन्द्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया।