खेती-किसानी:किसानों को दी खेती की नई जानकारियां, योजनाओं का लाभ लेने के लिए किया प्रेरित

सवाई माधोपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कुस्तला ग्राम पंचायत कुस्तला के ग्राम सवाईगंज में सरपंच किशन गोपाल बैरवा के अध्यक्षता में किसानों की बैठक का आयोजन किया गया। इसमें कृषि पर्यवेक्षक सुरेश स्वर्णकार द्वारा किसानों को खेती की नवीनतम जानकारियों सहित कृषि विभाग की विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया गया। उन्होंने कृषकों को फव्वारा संयंत्र का अधिक से अधिक उपयोग कर पानी बचाने, एचडीपीई पाइप लाइन, कृषि यंत्र, तारबंदी आदि के बारे में विस्तार से बताते हुए अधिक से अधिक लाभ लेने के लिए प्रेरित किया गया। तारबंदी फार्म पौंड (एनीकट) निर्माण के लिए उपयुक्त समय के बारे में बताया गया।

जो कृषक किसी भी कृषि विभाग की योजना में लाभ लेना चाहता है, वह राज किसान पोर्टल पर अपनी पत्रावली आवश्यक दस्तावेजों के साथ ऑनलाइन करा सकते हैं। कृषकों को कम जमीन में अधिक आमदमी प्राप्त करने के लिए फूलों की खेती के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी गई तथा यहीं पर बाजार उपलब्ध होने के कारण मुनाफा अधिक मिलने की संभावना के बारे में बताया गया। आगामी खरीफ सीजन को देखते हुए किसानों को उन्नत बीजों का प्रयोग करने, बीज उपचार एवं भूमि उपचार करने की सलाह दी गई, ताकि बीज जनित एवं भूमि जनित कीटों से या रोगों से फसलों को बचाया जा सके।

कृषकों को मिट्टी और पानी की जांच भी आवश्यक रूप से कराने की सलाह दी गई, ताकि भूमि की उर्वरा शक्ति को बनाए रखा जा सके और अनावश्यक दिए जा रहे उर्वरकों के कारण आर्थिक नुकसान नहीं उठाना पड़े। कृषि पर्यवेक्षक द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अंतर्गत खरीफ 2021 के क्लेम की सूची को पढ़कर के सुनाया गया एवं अधिक से अधिक किसानों को अपनी संपूर्ण जमीन का बीमा कराने की सलाह दी गई। उसको बोआई के पश्चात 24 जुलाई से 31 जुलाई के बीच अपनी बोई गई फसलों की जानकारी खसरे सहित ग्राम सेवा सहकारी समिति या संबंधित बैंक, जिससे केसीसी ले रखी है उसमें लिखित में देने का आग्रह किया गया। किसानों को फसल बीमा के प्रति जागरूक होना होगा, तभी असली रूप में हम फसल बीमा का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...