जल्द मां बन सकती बाघिन सिद्धी:बाघिन टी-125 सिद्धी की शारीरिक संरचना में बदलाव के चलते मां बनने की संभावना

सवाई माधोपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाघिन टी-125 की शारीरिक संरचना में बदलाव। - Dainik Bhaskar
बाघिन टी-125 की शारीरिक संरचना में बदलाव।

रणथम्भौर में बाघिन रिद्धी के खुशखबरी देने बाद अब सिद्धी के भी मां बनने की अटकले लगाई जा रही है। यह अटकले बाघिन की शारीरिक संरचना में बदलाव के चलते लगाई जा रही है। हांलाकि अभी तक बाघिन टी-125 सिद्धी शावकों के साथ नजर नहीं आई है, लेकिन बाघिन की शारीरिक संरचना देखते हुए उसके मां बनने की संभावना है।

बाघिन टी-125 शावकों के साथ वन विभाग के फोटो ट्रैप कैमरों में कैद भी नहीं हुई है। ऐसे में वन विभाग की ओर से अब तक बाघिन के मां बनने की पुष्टि नहीं की है। बाघिन सिद्धी की उम्र भी करीब साढ़े चार साल है। यह रणथम्भौर की मशहूर बाघिन एरोहेड यानि टी-84 की बेटी है। जबकि बाघिन टी-124 रिद्धी की बहन है। यदि बाघिन सिद्धी भी जल्द ही शावकों के साथ नजर आई तो यह पहला मौका होगा जब रणथम्भौर में एक साथ दो बहिने मां बनेगी।

फिलहाल बाघिन सिद्धी रणथम्भौर के जोन नम्बर पांच में रहती है। यहां पर बाघिन धाकड़ा, एरिया,भकोला, भदलाव चौकी आदि वन क्षेत्र में रहती है। पूर्व में रणथम्भौर के बाघ टी-113 के साथ बाघिन सिद्धी की मेटिंग भी हुई थी। जिसके बाद बाघिन सिद्धी पहली ही बार मां बनेगी। हालांकि बाद में वन विभाग की ओर से बाघ टी-113 को सरिस्का शिफ्ट कर दिया गया था। मामले को लेकर रणथम्भौर के DFO संग्राम सिंह का कहना है कि बाघिन सिद्धी की शारीरिक संरचना में बदलाव तो नजर आ रहा है, लेकिन अब तक शावक नहीं दिखे है। जिसकी वजह से बाघिन के शावकों को जन्म देने की पुष्टि नहीं की जा सकती है। शावकों के नजर आने के बाद ही इसकी पुष्टि की जा सकेगी।