रामलीला अंतिम सोपान पर:शहर की रामलीला में आज होगी रावण वध की लीला, राम दल व रावण दल में युद्ध के दौरान जय श्रीराम के जयकारे

सवाई माधोपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के रामलीला मैदान में नगर रामलीला मंडल समिति के तत्वावधान में चल रही रामलीला अब अपने अंतिम सोपान तक पहुंच चुकी है। समिति के उपाध्यक्ष एवं प्रवक्ता दिलीप शर्मा ने बताया कि कार्यक्रम के अतिथि स्कूल शिक्षा परिवार के ब्लॉक महामंत्री उमेश कुमार शर्मा एवं अनिता शर्मा ने भगवान श्रीगणेश, मां सरस्वती एवं राम दरबार की आरती करके मंचन प्रारम्भ कराया। रावण एवं रामादल के महासंग्राम में पहले मेघनाद वध की लीला में रामादल द्वारा मेघनाद के यज्ञ का विध्वंस करने के दृश्य पर दर्शक झूम उठे। जब मेघनाद एवं लक्ष्मण में निर्णायक युद्ध हो रहा था तो मैदान जय श्री राम के नारों से गूंज गया। रावण-अहिरावण संवाद एवं पंडित-पंडिताइन के कॉमेडी वाले संवादों पर दर्शकों ने खूब ठहाके लगाए। बुधवार को शाम 7 बजे रावण वध की लीला का मंचन किया जाएगा। बजरिया की रामलीला में भी हुआ कुंभकर्ण और मेघनाद वध: श्री विजेयश्वर नवयुवक रामलीला मंडल के तत्वावधान में बजरिया के मानटाउन क्लब में चल रही रामलीला में लंका दहन की लीला का मंचन किया गया। मंडल महामंत्री लालचंद गौत्तम ने बताया कि रामलीला में सर्वप्रथम आरती के मुख्य अतिथि राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ी लाल मीना, पूर्व यूआईटी चेयरमैन जगदीश अग्रवाल, संदीप अग्रवाल, रघुवीर सिंह राजावत, सचिन सैनी ने भगवान श्रीराम और रामायणजी की पूजा अर्चना आरती कर लीला का शुभारंभ किया। इसके बाद रामलीला में अंगद-रावण संवाद, मेघनाद का लक्ष्मण पर प्राणघातक शक्ति का प्रयोग, हनुमानजी द्वारा संकट मोचन बनकर संजीवनी बूटी लाकर लक्ष्मण के प्राण बचाना, इसके बाद लक्ष्मण-मेघनाद युद्ध, मेघनाद वध, कुंभकर्ण वध की लीला का मंचन किया गया। बुधवार को रावध वध की लीला का मंचन किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...