प्रदर्शन:बिजली कटौती को लेकर कुहाड़वास जीएसएस पर प्रदर्शन

बुहाना10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लगातार बिजली कटौती के विरोध में ग्राम पंचायत कुहाड़वास के 33 केवी पावर हाउस पर किसानों ने प्रदर्शन किया। कनिष्ठ अभियंता द्वारा फोन नहीं उठाने और अभद्रता करने को लेकर आक्रोशित किसानों ने सहायता अभियंता को खरी खरी सुनाई। किसानों ने कृषि के लिए लगातार छह घंटे व सुबह शाम घरेलू बिजली देने की मांग की। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि बिजली जरूरत के समय बंद रखी जाती है।

इसके बावजूद बिजली के बिल बढ़ाकर दिए जा रहे हैं। बिजली काटने पर बिलों में भी कटौती होनी चाहिए। विभाग स्थाई सेवा शुल्क के नाम पर प्रति उपभोक्ता से मनचाही राशि वसूल रहा है। यह लूट बंद होनी चाहिए। बिजली का पूरा बिल देने पर सही सेवा उपलब्ध नहीं कराने पर विद्युत कम्पनी पर जुर्माना होना चाहिए। काटी गई बिजली का बिल माफ होना चाहिए। इस दौरान रमेश कुमार भालोठिया व ओमप्रकाश झारोड़ा के नेतृत्व में ग्रामीण उच्च अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग करते रहे। मौके पर पहुंचे सहायक अभियंता सुभाष चन्द्र मीणा ने तीन घंटे तक किसानों से समझाइश की लेकिन वे उच्च अधिकारियों को बुलाने पर अड़े रहे। बाद में अधीक्षण अभियंता ने फोन पर बात कर किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए पांच दिन का समय मांगा। इस आश्वासन पर किसानों ने धरना समाप्त कर दिया।

खबरें और भी हैं...