पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संस्मरण:23 साल पहले किला फिल्म की शूटिंग के दौरान सुजानगढ़ के तोदी को गिफ्ट किया था कोट

सुजानगढ़19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ट्रेजडी किंग रह चुके बाॅलीवुड अभिनेता दिलीप कुमार का जुड़ाव सुजानगढ़ से भी रहा है। बुधवार को अभिनेता दिलीप कुमार का निधन हो गया। हिंदी फिल्मों के डिस्ट्रीब्यूटर रहे सुजानगढ़ के समाजसेवी पवन कुमार तोदी से इनका काफी जुड़ाव था। 23 साल पहले 1998 में मुंबई में फिल्म किला की शूटिंग चल रही थी। फिल्म में कई रोल के लिए दिलीप कुमार के लिए स्पेशल कोट सिलवाया गया था। शूटिंग के दौरान दिलीपकुमार व तोदी के बीच दोस्ती हो गई। शूटिंग पूरी होने के बाद पवन तोदी ने किला फिल्म खरीदी। इस दौरान दिलीपकुमार ने तोदी को ये कोट दोस्ती याद रखने के लिए गिफ्ट कर दिया।

खास बात ये है फिल्म किला 10 अप्रैल 1998 को रिलीज हुई थी। इससे पहले पवन तोदी ने सुजानगढ़ में एक अप्रैल को शहर के लोगों के साथ अप्रैल फूल भी बनाया। सभी को निमंत्रण देकर बुलाया कि वे एक अप्रैल को दिलीपकुमार की फिल्म किला का शो दिखाएंगे। ऐसे में सभी लोग सिनेमा में एकत्रित हो गए। सीटों पर बैठने के बाद पवन तोदी परदे के आगे हाथ जोड़कर खड़े हो गए और कहा कि अप्रैल फूल बनाया...। ये चर्चा शहर में काफी समय तक रही। बाद में रिलीज से दो दिन पहले आठ अप्रैल को ये फिल्म सुजानगढ़ में दिखा दी गई थी।

दिलीप कुमार के निधन पर कोट निकालकर पहना, आंखों में छलके आंसू

पवन तोदी को बुधवार सुबह जब दिलीप कुमार के निधन की सूचना मिली तो वे एकबारगी हक्के-बक्के रह गए। दोस्त रहे अभिनेता को श्रद्धांजलि देते हुए उनके गिफ्ट दिए कोट को निकालकर पहना। इस दौरान उनकी आंखों में आंसू भी छलक उठे। तोदी ने बताया कि दिलीपकुमार से उनका काफी जुड़ाव था। वे उनसे कई बार मुलाकात भी करने जाते। कुमार का निधन उनके लिए क्षति होने के साथ उन्होंने एक दोस्त खो दिया।

आज तक संजो कर रखा है, कई बार पहनते हैं ये कोट : तोदी ने 23 साल से इस कोट को संजो कर रखा है। शादी-समारोह में समय-समय पर पहनते भी है। तोदी ने बताया कि इस कोट से उनकी यादें जुड़ी हुई हैं। दिलीप कुमार हंसमुख स्वभाव के जिंदादिली इंसान थे। तोदी ने 80 व 90 के दशक में राजस्थान में फिल्म वितरक का कारोबार किया।

खबरें और भी हैं...