पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सोने का बिजनेस:5 माह में सुजानगढ़ में 35 करोड़ घटा बिजनेस, लेकिन सोने की चमक बरकरार, 50 हजार प्रति तोला पहुंचा

चूरू23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुजानगढ़ में जनवरी से मई तक सोने का बिजनेस 80 करोड़ का होता है, इस बार 45 करोड़ का

पेट्राेल-डीजल की तरह साेने की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। पिछले एक महीने में साेना प्रति 10 ग्राम रिकाॅर्ड 50 हजार पार पहुंच चुका है। ये 24 कैरेट के भाव हैं। 30 अप्रैल तक सोना 49,900 रुपए बिका। लॉकडाउन और मार्केट पूरी तरह ठप के बाद भी साेने में तेजी है। इसका मुख्य कारण अंतरराष्ट्रीय बाजार तेज हाेना है। 30 मई को 10 ग्राम 24 कैरेट सोने के भाव 50 हजार 200 रुपए जबकि जेवराती 46 हजार 100 रुपए रहा।

खास बात ये है कि पिछले 10 साल पहले सोना करीब 18 हजार रुपए था। 1947 यानी 74 साल पहले 88 रुपए 66 पैसे 10 ग्राम सोने के भाव थे। सीजन के ताैर देखें तो जनवरी से मई माह तक शादियां हाेने में साेने की मांग अधिक रहती है। सुजानगढ़ में ज्वैलरी के कई शोरूम हैं, लेकिन छाेटी-बड़ी मिलाकर करीब 300 दुकानें हैं, जाे ऑर्डर व तैयार माल बेचते हैं। इसमें पुराना साेना व फाइन साेना काे मिलाकर करीब 80 कराेड़ का काराेबार इन महीनाें में हाेता है, जिसमें ग्राहक पुराना साेना तुड़वाकर वापस नया जेवर बनवाते हैं।

लॉकडाउन हाेने से दुकानें पूरी तरह से बंद रहने और काेराेना संक्रमण फैलने से लगी पाबंदियाें के चलते व्यापार ठप है। इस बार सुजानगढ़ में 45 करोड़ का ही कारोबार हो पाया है। स्वर्ण आभूषण निर्माता दिनेश सोनी ने बताया कि वर्तमान में साेने-चांदी का व्यापार शून्य है। 30 अप्रैल तक शादियाें की सीजन में ऑर्डर के हिसाब से कुछ काम चला था। अक्षय तृतीय के बाद से व्यापार पूरी तरह बंद है।

कीमत बढ़ने के 2 बड़े कारण
1. विदेशी बाजार में तेजी : वर्तमान में फाॅरेन मार्केट आसमान छू रहा है। डाॅलर के भाव भी बढ़ रहे हैं। पैसा कमजाेर हाे रहा है।
2. क्रिप्टाे करेंसी में मंदी : अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रिप्टाे करेंसी व बिटकाॅइन के भाव कमजाेर चल रहे हैं। इसका सीधा असर साेने पर पड़ रहा है।

दीपावली तक 53000 रुपए तक जा सकते हैं भाव
स्वर्ण आभूषणों के बिजनेस से जुड़े व्यापारियों ने बताया कि साेना-चांदी के भाव पूरी तरह से अंतरराष्ट्रीय बाजार पर निर्भर है। सरकार फाॅरेन से वैक्सीन खरीद रही है। डाॅलर के भाव तेज हाेने के चलते वैक्सीन भी महंगी मिल रही है। इसके अलावा स्टाॅक एक्सचेंज में साेना-चांदी में प्रतिदिन पैसा लगाकर लाेग व्यापार कर रहे हैं। गारमेंट पॉलिसी में भी ब्याज मिलता है। इसमें व्यापार करना भी सेफ है। इसी कारण भारत में बाजार बंद हाेने के बाद भी साेने की कीमतें बढ़ रही है। साेने के भाव दीपावली तक 52000 से 53000 रुपए तक जा सकता है। निवेशक साेने में निवेश काे सुरक्षित मान रहे हैं।

खबरें और भी हैं...