पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अटका क्लैम:क्रॉप कटिंग व बैंकों की लापरवाही से अटका हुआ है 58 हजार किसानों का क्लैम, आज कलेक्ट्रेट पर भरेंगे हुंकार

चूरू6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्ट्रेट पर आंदोलन के तहत गांव में सभा को संबोधित करते किसान सभा पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
कलेक्ट्रेट पर आंदोलन के तहत गांव में सभा को संबोधित करते किसान सभा पदाधिकारी।

जिले के 58 हजार किसानों की रबी सीजन वर्ष 2017-18 व 2018-19 में फसलें तो खराब हुई, मगर बीमा कंपनी ने उनके क्लैम का भुगतान अब तक नहीं किया। शून्य उत्पादन, क्रॉप कटिंग की कमी व बैंकों की लापरवाही के कारण इन किसानों का क्लैम अटका हुआ है, जिसको लेकर बुधवार को किसान फिर से हुंकार भरेंगे तथा कलेक्ट्रेट के आगे अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू करेंगे।

जिले के किसानों की ओर से लगातार आंदोलन व संघर्ष के बाद बीमा कंपनी की ओर से क्लैम जारी भी किया गया था, मगर तीन कैटेगिरी में 58 हजार किसानों को क्लैम के नाम पर कुछ नहीं मिला।। इन किसानों के खातों से बैंकों ने प्रीमियम राशि काटकर बीमा कंपनी को भी भेज दी और प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों की फसलें भी खराब हो गई, मगर बैंक व बीमा कंपनी की गलती के कारण ये किसान अब भी क्लैम के लिए संघर्ष कर रहे है।

बुधवार को जिले के किसान कलेक्ट्रेट के आगे अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू कर बकाया बीमा क्लैम की मांग करेंगे। आंदोलन को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में जनसम्पर्क भी किया गया है।

3 बड़े कारण : जिनसे बीमा कंपनी क्लैम देने में कर रही है आनाकानी

1. नौ हजार किसानों की पूरी फसल खराब, एक रुपए का क्लैम भी नहीं
जिले में रबी फसल वर्ष 2017-18 के तहत तीन हजार व रबी फसल 2018-19 के तहत 6 हजार किसान ऐसे हैं, जिनके खेतों में खड़ी फसलें पूरी तरह खराब हो गई। ये शत-प्रतिशत क्लैम के हकदार हैं। इनमें वर्ष 2017-18 के तहत तारानगर के गडाना व बुचावास तथा वर्ष 2018-19 के तहत सिद्धमुख, भीमसाना, रामसराताल व डोकवा आदि हल्का पटवार मंडल के किसान शामिल हैं।

बीमा कंपनी ने क्रॉप कटिंग रिपोर्ट में भी इन किसानों के हल्का पटवार मंडलों में शून्य उत्पादन दिखाया, लेकिन क्लैम अब तक नहीं मिला है। बीमा कंपनी शून्य उत्पादन को मानक न मानकर बीमा क्लैम देने में आनाकानी कर रही है।

2. क्रॉप कटिंग नहीं होने से क्लैम से वंचित हुए 33 हजार किसान
33 हजार किसान ऐसे हैं, जो रबी फसल 2017-18 के बीमा क्लैम से क्रॉप कटिंग नहीं होने से वंचित हैं। इनमें चूरू तहसील के करीब 20 हजार, राजगढ़ के 8 हजार, तारानगर के 2 हजार व सरदारशहर के 3 हजार किसान हैं। चूरू के 25 पटवार मंडल, राजगढ़ के 8 पटवार मंडल व सरदारशहर के 14 पटवार मंडल के किसान हैं।

3. बैंकों ने पोर्टल पर किसानों के डाटा अपलोड नहीं किए
रबी फसल वर्ष 2017-18 व रबी फसल वर्ष 2018-19 के तहत 16 हजार किसान बैंकों की लापरवाही के कारण अब तक बीमा क्लैम से वंचित है। कुछ स्थानों पर बैंक किसानों के खातों से प्रीमियम राशि काटना भूल गई।

वहीं कुछ स्थानों पर बैंकों ने प्रीमियम काट लिया, मगर किसानों के डाटा पोर्टल पर अपलोड नहीं किए, जिसके कारण बीमा कंपनी ने भी क्लैम से इनकार कर दिया। इनमें चूरू के चार हजार, तारानगर के चार हजार, राजगढ़ के 5 हजार व सरदारशहर के करीब तीन हजार किसान हैं।

जिले में तीन कैटेगिरी के करीब 58 हजार किसान रबी फसल वर्ष 2017-18 व वर्ष 2018-19 के बीमा क्लैम से अब भी वंचित हैं। ये किसान बैंक व बीमा कंपनी की लापरवाही के कारण क्लैम से वंचित रहे हैं, जिनको हर हाल में क्लैम दिलाया जाएगा। इसको लेकर बुधवार से कलेक्ट्रेट पर अनिश्चितकालीन धरना व आंदोलन शुरू किया जाएगा।-एड. निर्मल प्रजापत, प्रदेश कमेटी सदस्य, अखिल भारतीय किसान सभा

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें