पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई की मांग:निष्पक्ष जांच व दोषियों पर कार्रवाई की मांग

चूरूएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • युवक का पटरियों के पास शव मिलने का मामला : चूरू, बीदासर व तारानगर में ज्ञापन दिया

अखिल भारत हिंदू युवा मोर्चा के पदाधिकारियों ने कलेक्टर व एसपी को ज्ञापन देकर सुजानगढ़ के मनोज उर्फ डालमचंद प्रजापत की संदिग्धावस्था में हुई मौत के मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की। ज्ञापन में बताया कि सुजानगढ़ रेलवे स्टेशन के पास फाटक नंबर तीन पर तीन जुलाई को डालमचंद का शव संदिग्धावस्था में मिला तथा पास ही युवती अचेत अवस्था में मिली। मृतक के परिजनों को आशंका है कि युवती के परिजनों ने ही डालमचंद के साथ कुछ गलत किया है, क्योंकि वे पूर्व में भी डालमचंद को जान से मारने की धमकियां दे रहे थे। सुजानगढ़ पुलिस निष्पक्ष जांच की बजाए पीड़ित परिवार को भी प्रताड़ित कर रही है।

मामले की जांच पुलिस के किसी वरिष्ठ अधिकारी से करवाने तथा एसपी से मॉनीटरिंग की मांग की गई। ज्ञापन देने वालों में अखिल भारत हिंदू युवा मोर्चा प्रदेश महासचिव रामचंद्र प्रजापति, प्रदेश प्रभारी कमल सोनी, प्रदेश उपाध्यक्ष सुधीर शर्मा, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनोद प्रजापति, चूरू जिलाध्यक्ष दिवाकर बनसिया, प्रजापति समाज जिलाध्यक्ष रामचंद्र तूनवाल, मुकनाराम, सुरेंद्र शर्मा, शंकरलाल कुदाल, लिखमाराम प्रजापत अमित शर्मा आदि थे। बीदासर | सुजानगढ़ के मनाेज प्रजापत की माैत के मामले में निष्पक्ष जांच कराने की मांग काे लेकर बुधवार काे विश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एसडीएम श्याेराम वर्मा काे ज्ञापन साैंपा।

ज्ञापन में मनाेज प्रजापत की हत्या करने का अाराेप लगाते हुए बताया गया है कि मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाए और आराेपियाें काे गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाए। इस दाैरान विहिप जिला उपाध्यक्ष प्रहलाद सिंह, विकास भार्गव, लालचंद बेनीवाल, पार्षद बाबूलाल प्रजापत, काशी राणावत, विकास सुथार, विमल दर्जी, अंकित सेठिया अादि माैजूद रहे।

तारानगर | विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताअाें ने एसडीएम माेनिका जाखड़ काे ज्ञापन साैंपकर सुजानगढ़ के मनाेज प्रजापत की माैत के मामले की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की। ज्ञान में उल्लेख है कि मनोज प्रजापत की हत्या को आत्महत्या का रूप दिया गया है। अाराेपियाें काे गिरफ्तार कर मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाए। इस दाैरान गजानंद जांगिड़, प्रदीपसिंह राठौड़ अादि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...