पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

महंगाई की मार:एक साल में गैस सिलेंडर 210 रु. महंगा हुआ, जिले के उपभोक्ताओं पर 6.30 करोड़ रु. का मासिक भार बढ़ा

चूरू4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 10 माह से बंद है सब्सिडी, जिले में प्रतिमाह करीब तीन लाख सिलेंडरों की खपत

पेट्रोल-डीजल के साथ ही गैस सिलेंडर के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं। फरवरी माह में ही इनमें 75 रुपए की बढ़ोत्तरी हो चुकी है। दूसरी ओर केंद्र सरकार की ओर से खातों में डाली जाने वाली गैस सब्सिडी 10 माह से बंद है, जिसके कारण अब हमारे घर की रसोई तक पहुंच रहा सिलेंडर 210.50 रुपए महंगा पड़ रहा है।

जिले में 45 गैस एजेंसियां हैं, जिनमें भारत गैस की 12, एचपी की आठ व इंडियन ऑयल की 25 हैं। इनसे करीब पांच लाख घरेलू उपभोक्ता जुड़े हुए हैं। जिले में प्रतिमाह तीन लाख व प्रतिदिन करीब 10 हजार गैस सिलेंडरों की खपत होती है। केंद्र सरकार की ओर से गैस सब्सिडी बंद किए जाने के कारण अब हर उपभोक्ता पर इस महंगाई की मार पड़ रही है।

गैस एजेंसी संचालकों ने बताया कि फरवरी माह में गैस सिलेंडर 75 रुपए महंगा हुआ है। जनवरी 2021 तक प्रति गैस सिलेंडर की कीमत 710 रुपए थी, इसमें चार फरवरी को 25 रुपए व बाद में 15 फरवरी को 50 रुपए की बढ़ोत्तरी हुई। अब हर उपभोक्ता को प्रति गैस सिलेंडर 785.50 रुपए चुकाने पड़ रहे हैं। अब जिले के उपभोक्ताओं पर प्रतिमाह 6.30 करोड़ रुपए का भार बढ़ गया है।

फरवरी 2020 में 720 रु. कीमत, 145 रु. सब्सिडी थी, अब 785.50 रु., सब्सिडी भी नहीं

फरवरी 2020 में सिलेंडर की कीमत 720 रुपए थी, जिसमें 145 रुपए सब्सिडी मिल रही थी। डीएसओ सुरेन्द्र कुमार महला ने बताया कि फरवरी माह में गैस सिलेंडर के दाम 75 रुपए बढ़े हैं। जनवरी 2021 तक प्रति गैस सिलेंडर की कीमत 710 रुपए थी, इसमें चार फरवरी को 25 रुपए व बाद में 15 फरवरी को 50 रुपए की बढ़ोत्तरी हुई।

अब उपभोक्ता को सिलेंडर के 785.50 रुपए चुकाने पड़ रहे हैं। जिले में प्रतिदिन 10 हजार तथा प्रतिमाह औसत तीन लाख सिलेंडरों की खपत होती है। प्रति सिलेंडर 210.50 रुपए के हिसाब से अब उपभोक्ताओं पर प्रतिदिन का 21 लाख रुपए व प्रति माह का करीब 6.30 करोड़ रुपए का भार बढ़ गया है।
मई 2020 से बंद है गैस सब्सिडी
मई 2020 में गैस सिलेंडर के दाम निचले स्तर पर 596 रुपए पर पहुंच गए थे, जिसके कारण उपभोक्ताओं के खातों में सब्सिडी नहीं पहुंच पाई। इसके बाद जून-जुलाई में दामों में मामूली बढ़ोत्तरी हुई, वहीं अगस्त से दिसंबर तक 610 स्थिर रहे। जनवरी व फरवरी 2021 में सिलेंडर के दाम फिर बढ़े। अब बीते 10 माह से उपभोक्ताओं के खातों में सब्सिडी नहीं पहुंच रही है तथा उन्हें सिलेंडर के पूरे दाम चुकाने पड़ रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें