पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Churu
  • In Churu, In 20MM Of Rain, Water Filled Up To 2 Feet On The Roads, The Students Sat On Handcarts, There Is A Possibility Of Rain Again From Tomorrow To September 11

परीक्षार्थियों को केंद्र पर पहुंचने में हुई परेशानी:चूरू में 20MM बारिश में ही सड़कों पर 2 फीट तक भरा पानी, ठेलों पर बैठकर गए परीक्षार्थी, कल से 11 सितंबर तक फिर बारिश की संभावना

चूरू22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सोमवार को पानी भरने के कारण सुभाष चौक से पंखा एवं जौहरी सागर से झारिया मोरी का आवागमन बंद हो गया। सड़क पर 2 फीट तक पानी भर गया। देर शाम तक निकासी नहीं हो पाई। लोगों ने बताया कि पानी निकासी के लिए नगर परिषद में वे फोन करते रहे, मगर किसी ने जौहरी पंपहाउस की मोटरें चालू नहीं की।। फोटो-सुभाष चौक से पंखा सर्किल जाने वाली रोड पर ठेले में बैठकर परीक्षा केंद्र जाती छात्रा। - Dainik Bhaskar
सोमवार को पानी भरने के कारण सुभाष चौक से पंखा एवं जौहरी सागर से झारिया मोरी का आवागमन बंद हो गया। सड़क पर 2 फीट तक पानी भर गया। देर शाम तक निकासी नहीं हो पाई। लोगों ने बताया कि पानी निकासी के लिए नगर परिषद में वे फोन करते रहे, मगर किसी ने जौहरी पंपहाउस की मोटरें चालू नहीं की।। फोटो-सुभाष चौक से पंखा सर्किल जाने वाली रोड पर ठेले में बैठकर परीक्षा केंद्र जाती छात्रा।

जिला मुख्यालय पर सोमवार सुबह करीब एक घंटे में 20.6 एमएम बारिश हुई। इतनी सी बारिश में शहर की कई सड़कों पर दो फीट तक पानी भर गया। इस कारण बीएसटीसी के परीक्षार्थियों को खासी परेशानी हुई। जौहरी सागर एवं सुभाष चौक के बीच स्थित बागला स्कूल, बागला बालिका स्कूल सहित चार केंद्रों में बीएसटीसी परीक्षाएं चल रही है। परीक्षार्थियों को सोमवार काे केंद्र पर पहुंचने के लिए ठेला से लेकर ट्रैक्टर में बैठकर पहुंचना पड़ा। जिला मुख्यालय पर सुबह 7.15 बजे ही बारिश शुरू हुई जो करीब 8.30 बजे तक जारी रही।

जयपुर मौसम केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में परिसंचरण तंत्र बनने के बाद मानसून एक बार फिर सक्रिय हा़े गया। उदयपुर और कोटा संभाग के जिलों में 8 सितंबर से कहीं कहीं भारी बारिश होने की संभावना है। बीकानेर सहित चूरू जिले में 8 से 10 सितंबर तक मध्यम व हल्की बारिश हो सकती है। इधर, सोमवार को अधिकतम 35.9 एवं न्यूनतम तापमान 24.8 डिग्री रहा। रविवार को अधिकतम 35.2 व न्यूनतम तापमान 24.1 डिग्री था।

शहर के 17 पॉइंट पर बारिश आते ही जल भराव, कई रास्तों पर जमा रहता है पानी

प्यालेनुमा शहर की बसावट होने के कारण बारिश आते ही 17 निचले इलाकों में पानी भर जाता है। इनमें दो-तीन एरिया ऐसे हैं, जहां 8 से 72 घंटे तक रास्ते बंद रहते हैं। दो रोज पहले जौहरी सागर से सुभाष चौक एवं झारिया, भाईजी चौक में चार दिन तक पानी भरा रहा। सोमवार को फिर ये रास्ते बंद हो गए। डीएफओ आॅफिस के सामने, नई एवं पुराने बस स्टैंड, नेत्र अस्पताल के सामने, डीबीएच के आगे, कलेक्ट्रेट के मुख्य द्वार व सामने, गायत्री नगर, चांदनी चौक, गांधीनगर, लोहिया कॉलेज सहित 17 पॉइंट पर पानी भरता है।

बारिश होते ही स्कूलों में नहीं पहुंच पाते स्टूडेंटस

बारिश के बाद राजकीय बागला उमावि, बागला बालिका उमावि, खेमका स्कूल, सर्वहितकारिणी मावि सहित कई निजी व सरकारी स्कूलों में स्टूडेंट्स नहीं पहुंच पाते, क्योंकि इनके रास्ते में पानी भर जाता है। इधर, जौहरी सागर एरिया में पानी भरने से दादाबाड़ी के पास नए निजी अस्पताल में रोगी नहीं पहुंच पाते।

  • बारिश में गर्ल्स कॉलेज, रामगढिय़ा दरवाजा, घंटाघर, सब्जीमंडी व सुभाष चौक से आसानी से नहीं निकल सकते, क्योंकि बारिश का पानी इसी एरिया से झारिया मोरी व सुभाष चौक होते हुए जौहरी सागर जाता है।

चूरू में एक जून के बाद अब तक औसत 279 एमएम से 103 एमएम बारिश ज्यादा

जिला वास्तविक बारिश औसत बारिश
चूरू - 383.5 - 279.9MM
हनुमानगढ़ - 240.5 - 235.1
जैसलमेर - 174.2 - 145.2
नागौर - 334.1 - 319.6
(पश्चिमी राजस्थान के इन 4 जिलों में औसत से ज्यादा बारिश)​​​​​​​

खबरें और भी हैं...