पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना जागरूकता:रंग में रंगा नजर आएगा स्वाधीनता दिवस कार्यक्रम, इसी थीम पर होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम

चुरु2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बच्चे व बुजुर्ग नहीं हो सकेंगे कार्यक्रम में शामिल, सोशल डिस्टेंस व मास्क लगाना जरूरी

स्वाधीनता दिवस पर 15 अगस्त को होने वाला कार्यक्रम इस बार कोरोना के रंग में रंगा नजर आएगा। सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम कोरोना जागरूकता से जुड़े होंगे। वहीं कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंस व मास्क पहनकर आना भी जरूरी होगा। समारोह की तैयारियों को लेकर कलेक्टर डॉ. प्रदीप के गावंड़े के निर्देश पर एसीईओ डॉ. नरेन्द्र चौधरी ने कलेक्ट्रेट सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। चौधरी ने कहा कि कार्यक्रम में इस बार कोरोना वायरस महामारी के चलते जरूरी प्रोटोकॉल भी फॉलो करने होंगे। सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी पालना करनी होगी। बच्चों को व बुजुर्गों को कार्यक्रम में शामिल नहीं किया जाएगा तथा सभी को मास्क लगाना अनिवार्य होगा।

कार्यक्रम में आने वाले लोगों के लिए थर्मल स्केनिंग व हैंड सेनेटाइजर की समुचित व्यवस्था की जाएगी। कोरोना वॉरियर्स यथा पुलिसकर्मी, चिकित्साकर्मी, सफाईकर्मी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनी को आमंत्रित किया जाएगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम भी कोरोना जागरूकता पर आधारित होंगे। प्रशस्ति पत्र के लिए कोरोना महामारी के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वालों के ही नाम प्रस्तावित करें। सहायक निदेशक जनसंपर्क कुमार अजय ने बताया कि जिले के समस्त राजकीय भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा। विद्यार्थियों को कार्यक्रम में शामिल नहीं किया जाएगा। शिक्षण संस्थाओं में भी ध्वजारोहण व राष्ट्रगान होंगे। जनप्रतिनिधि व शहीद के परिवारों के सदस्य समारोह में भाग लेंगे।

उपखंड स्तरीय कार्यक्रम में एसडीएम ध्वजारोहण करेंगे। पंचायत मुख्यालयों पर सरपंच ध्वजारोहण करेंगे। बैठक में एसडीएम सुनील शर्मा, नायब तहसीलदार, भू-अभिलेख निरीक्षक ओमप्रकाश शर्मा, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी सागरमल सैनी, पीएचईडी एक्सईएन रामकुमार झाझड़िया सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें