पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छह घंटे रास्ता जाम कर किया प्रदर्शन:पहले दिन सभापति बोली- उनके कार्यकाल में गेनाणी नहीं टूटी और दूसरे ही दिन टूट गई

चूरूएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गेनाणी के पानी से तीन मकानों को नुकसान पहुंचा
  • सूचना के दो घंटे बाद आया प्रशासन तो खफा हुए लोग

बारिश के मौसम में ढाल बनकर शहर के गंदे पानी को जमा रखने वाली गाजसर गेनाणी शुक्रवार काे सुबह बिना बारिश के ही फिर टूट गई। सभापति ने गुरुवार को गेनाणी के उनके कार्यकाल में नहीं टूटने को लेकर बयान दिया था और अगले दिन सुबह ही टूट गई। पानी के बहाव से गांव के बाहरी क्षेत्र में बसे तीन ग्रामीणों के मकान क्षतिग्रस्त हो गए। इधर, हादसे से आक्रोशित ग्रामीणों ने चूरू-भालेरी रोड पर छह घंटे जाम लगाकर प्रदर्शन किया। गाजसर सरपंच सुरेंद्र प्रजापत ने बताया कि शुक्रवार सुबह चार बजे के करीब अज्ञात कारणों से गेनाणी टूट गई।

गेनाणी टूटने व गंदा पानी आने की सूचना के साथ ही गांव में अफरा-तफरी का माहौल बन गया और ग्रामीण घरों से बाहर आ गए। गांव का मुख्य रास्ता गेनाणी के पानी से पूरी तरह लबालब हो गया और बाहरी क्षेत्र में बसे तीन घर भी क्षतिग्रस्त हो गए। कुछ लोगों को रेसक्यू कर निकाला गया। गनीमत ये रही कि लोगों को जाग होने से किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। इसके अलावा सात-आठ अन्य घरों को भी मामूली नुकसान हुआ। गेनाणी के टूटने की सूचना तत्काल प्रशासन को दी गई, मगर डेढ़-दो घंटे तक कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा, इससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए।

बाद में करीब 7.30 बजे ग्रामीण एकत्रित होकर चूरू-भालेरी रोड पर पहुंचे और जाम लगाकर प्रदर्शन किया। सड़क के दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। सूचना पर भाजपा से जिला प्रमुख वंदना आर्य, प्रधान दीपचंद राहड़, पूर्व जिला प्रमुख हरलाल सहारण, पूर्व जिलाध्यक्ष डॉ. वासुदेव चावला, बसंत शर्मा आदि पहुंचे।

कांग्रेस से सभापति पायल सैनी, नारायण बालाण, रमजान खान, पंस सदस्य धर्मेंद्र बुडानिया आदि पहुंचे व ग्रामीणों से नुकसान के बारे में जानकारी ली। सभापति पायल सैनी ने बताया कि गेनानी की निगरान के लिए नियुक्त किए गए कर्मचारी रोहिताश मीणा को मामले में निलंबित कर दिया गया है। प्रभावित हुए तीन परिवारों के लोगों के लिए नगरपरिषद की तरफ से राशन सामग्री की व्यवस्था की गई।

एसडीएम अभिषेक खन्ना, सीईओ सत्तार खान, एएसपी योगेन्द्र फौजदार, डीएसपी ममता सारस्वत, आयुक्त हेमाराम चौधरी आदि ने रास्ता खोलने को लेकर ग्रामीणों से वार्ता की। ग्रामीण पीड़ितों को तत्काल सहायता देने व स्थाई समाधान कराने को लेकर अड़े रहे। सरपंच सुरेन्द्र प्रजापत, कल्पना गर्वा, रामेश्वर सैनी, रामलाल सहारण सहित पीड़ितों को लेकर अधिकारी कलेक्टर के पास पहुंचे।

वहां वार्ता में प्रशासन की तरफ से स्थाई समाधान के लिए नगरपरिषद के प्रस्ताव को जल्द स्वीकृत कराने, बेघर हुए लोगों की व्यवस्था करने व सर्वे करवाकर मुआवजा देने के आश्वासन के बाद दोपहर 1.30 बजे ग्रामीणों ने धरना समाप्त किया।

पीड़ितों को मंडेलिया की ओर से एक-एक लाख रुपए दिए, राठौड़ ने की मदद की घोषणा

गेनाणी के पानी से गांव के मुकेश पुत्र अमरसिंह, सुरेश पुत्र ताराचंद व तुलछी पत्नी ताराचंद के मकान क्षतिग्रस्त हो गए और घर का सारा सामान खराब हो गया। पीड़ित परिवारों को कांग्रेस नेता रफीक मंडेलिया की तरफ से तत्काल एक-एक लाख रुपए की नकद सहायता इरशाद मंडेलिया व सभापति पायल सैनी ने दी। दूसरी ओर धरने पर पहुंचे भाजपा नेताओं ने प्रतिपक्ष नेता राजेन्द्र राठौड़ की ओर से डेढ़-डेढ़ लाख रुपए देने की घोषणा की गई।
बड़ा सवाल- एक सप्ताह पहले तक सही थी गेनाणी, लेकिन अचानक कैसे टूटी
एसडीएम अभिषेक खन्ना- 11 जून को आयुक्त हेमाराम चौधरी सहित नगरपरिषद की टीम के साथ गाजसर गेनाणी का निरीक्षण किया था। उस समय गेनाणी का पानी ओवरफ्लो होने या टूटने जैसे हालात नहीं थे। गेनाणी कैसे टूटी, इसे लेकर कुछ कह नहीं सकते। पानी की आवक ज्यादा होने से ऐसा हो सकता है।
सभापति पायल सैनी- अब तक दो बार कम खर्च पर गेनाणी का रख-रखाव करने के बारे में बयान दिए हैं और दोनों बार अगले दिन ही गेनाणी टूटी है जो निश्चित रूप से संदेह पैदा करती है। गुरुवार को गेनाणी के मेरे कार्यकाल में नहीं टूटने को लेकर बयान दिया था और अगले दिन टूट जाती है, जो निश्चित रूप से किसी असामाजिक तत्व का काम भी हो सकता है। इस संबंध में रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई करने का भी प्रयास किया जाएगा।
आयुक्त हेमाराम चौधरी- गेनाणी पर कर्मचारी की नियुक्ति कर लगातार मॉनीटरिंग की जा रही है। रोज पानी के लेवल की रिपोर्ट ली जा रही है। गुरुवार शाम को भी रिपोर्ट ली थी, जिसमें ओवरफ्लो होने व टूटने जैसी संभावना नहीं थी, फिर भी टूटना संदेह पैदा करता है। इसकी अपने स्तर पर जांच करवाएंगे। अगर कुछ गलत मिलता है तो एफआईआर या कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...