ऑस्ट्रेलिया में बैठे दूल्हा-दुल्हन, चूरू से पंडित ने शादी कराई:शादी की सारी रस्में गांव में, फेरे सिडनी में; कन्यादान भी ऑनलाइन

चूरू10 दिन पहले

चूरू जिले के एक छोटे से गांव सहनाली बड़ी में हुई शादी चर्चा का विषय बनी हुई है। यहां बैठे पंडित ने लड़की के घर से दूल्हा-दुल्हन की ऑस्ट्रेलिया में ऑनलाइन शादी करवाई। खास बात यह है कि शादी की सभी रस्में गांव में ही हुईं। रिश्तेदारों की मौजूदगी में सभी रीति-रिवाज पूरे किए गए। जब बात फेरों की आई तो पंडित ने ऑनलाइन मंत्र पढ़े और 11 हजार किमी दूर सिडनी में बैठे जोड़े ने सात फेरे लिए।

सहनाली बड़ी गांव के प्रोफेसर डॉ. गजेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि उनकी बेटी निहारिका दो साल पहले बड़ी बहन प्रियांगिनी के साथ टूरिस्ट वीजा पर ऑस्ट्रेलिया के सिडनी गई थी। इस बीच कोरोना आ गया तो वहां की सरकार निहारिका का वीजा बढ़ाती रही। आस्ट्रेलिया जाने से पहले उसका रिश्ता आरएस शेखावत के साथ हो चुका था। शेखावत भी आस्ट्रेलिया में रहते हैं। वे वहां होटल में मैनेजर के पद पर हैं। शेखावत के पास ऑस्ट्रेलिया की नागरिकता होने के कारण दो साल तक भारत नहीं आ सकते थे। ऑस्ट्रेलिया में रीति-रिवाज से शादी करने वाले पंडित भी नहीं मिल रहे थे।

निहारिका और आरएस शेखावत की 6 नवंबर को जयपुर में ऑनलाइन सगाई भी हुई।
निहारिका और आरएस शेखावत की 6 नवंबर को जयपुर में ऑनलाइन सगाई भी हुई।

लंबे समय तक शादी नहीं हो पाने के कारण परिजनों ने ऑनलाइन शादी का प्रस्ताव रखा। परिवार के सभी सदस्य मान गए, लेकिन उन्होंने सारी रस्में गांव में पूरी की। 20 नवंबर को दोनों की शादी हुई। इसमें पंडित सुरेश शर्मा ने ऑनलाइन वैदिक मंत्रोच्चार के साथ दोनों के फेरे करवाए।

20 नवंबर को दोनों की शादी हुई। इसमें पंडित सुरेश शर्मा ने ऑनलाइन वैदिक मंत्रोच्चार के साथ दोनों के फेरे करवाए।
20 नवंबर को दोनों की शादी हुई। इसमें पंडित सुरेश शर्मा ने ऑनलाइन वैदिक मंत्रोच्चार के साथ दोनों के फेरे करवाए।

6 नवंबर को हुई थी सगाई
प्रो. डॉ. राठौड़ ने बताया कि दूल्हा जयपुर का रहने वाला है। निहारिका के घर वाले दूल्हे के घर पहुंचे। यहां 6 नवंबर को दोनों के घरवालों की मौजूदगी में ऑनलाइन सगाई हुई। इसके बाद 16 नवम्बर को गांव में गीत, 18 नवम्बर को बान, 19 नवम्बर को राती-जोगा व 20 नवंबर को शादी की रस्में ऑनलाइन स्क्रीन के माध्यम से की गई। ऑनलाइन की गई यह सभी रस्में सहनाली छोटी गांव के पंडित सुरेश शर्मा ने करवाई।

गांव में शादी की सभी रस्में निभाई गईं। फेरे सिडनी में हुए।
गांव में शादी की सभी रस्में निभाई गईं। फेरे सिडनी में हुए।
चूरू में बैठे पंडित सुरेश शर्मा ने सिडनी में फेरे करवाए।
चूरू में बैठे पंडित सुरेश शर्मा ने सिडनी में फेरे करवाए।

दूल्हा-दुल्हन की ड्रेस से लेकर शादी का सारा सामान कूरियर किया
निहारिका की बड़ी बहन डॉ. प्रियंका ने बताया कि शादी से एक महीने पहले शेखावत की शेरवानी का नाप जोधपुर में ऑनलाइन ही लिया गया था। निहारिका की ड्रेस, दूल्हे का साफा और अन्य सामान भी यहीं से सिडनी भेजा गया था। इसके अलावा बान, राती-जोगा व फेरो का सामान भी कूरियर से भेजा गया था।

निहारिका-आरएस शेखावत की शादी में परिवार के लोग ऑनलाइन जुड़े।
निहारिका-आरएस शेखावत की शादी में परिवार के लोग ऑनलाइन जुड़े।
खबरें और भी हैं...