सुसाइड के लिए उकसाने का आरोप:मृतक के भाई और गांव वालों ने सड़क पर लगाया जाम, पंचायत समिति प्रधान की गिरफ्तारी की मांग

चूरू4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सदर पुलिस थाना के सामने सड़क पर जाम लगाकर बैठे ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
सदर पुलिस थाना के सामने सड़क पर जाम लगाकर बैठे ग्रामीण।

ट्रक से लटके मिले शव के मामले में आज सड़क पर जाम लगाया गया। गांव के लोग आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ गए। चूरू पंचायत समिति प्रधान दीपचंद राहड़ और देपालसर के भंवरलाल पूनिया की गिरफ्तारी की मांग को लेकर ग्रामीणों ने नारेबाजी की।

चूरू सदर थानाधिकारी हंसराज लूणा ने बताया कि मृतक जगदीश मेघवाल के भाई इन्द्रचंद ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है। प्रधान दीपचंद राहड़ और भंवरलाल पूनिया के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने और एससी एक्ट में मामला दर्ज किया है। मृतक के भाई ने बताया कि उसका भाई ट्रक ड्राइवर था। अपने आठ बच्चों के परिवार का भरण-पोषण करता था। भाई ने ट्रक भंवरलाल पूनियां देपालसर से चार लाख रुपए में खरीदा था। ट्रक के कागज भंवरलाल पूनिया के नाम थे। ट्रक पिछले 14 महिनों से जगदीश के पास था।

जगदीश की बिना जानकारी के भंवरलाल पूनिया ने यह ट्रक पंचायत समिति प्रधान दीपचंद राहड़ को गलत रूप से बेच दिया। जब भाई को इस बात का पता चला तो, उसके कुछ समझ में नहीं आया। दुखी और परेशान होकर उसने ट्रक पर ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक के भाई और गांव वालों ने आज सड़क पर जाम लगा दिया। आरोपियों को गिरफ्तार कर सजा देने की मांग की। सदर थाना पुलिस ने आईपीसी की धारा 306 और एससी एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं। जगदीश मेघवाल का शव रतनगढ़ रोड पर ट्रक से फांसी पर लटका हुआ मिला था।

खबरें और भी हैं...