पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्रवाई:हीरे बेचने आए तीन युवकों की हत्या के मामले में दो सगे भाइयों सहित तीन आरोपियों को उम्र कैद

चूरूएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 25 सितंबर, 2010 को हीरे बेचने जयपुर से सरदारशहर आए थे तीनों व्यापारी, 20 लाख रु. के हीरे हथियाए थे

एडीजे कोर्ट ने सरदारशहर में 25 सितंबर, 2010 को जयपुर से हीरे बेचने आए तीन युवकों की हत्या कर करीब 20 लाख रुपए के हीरे हथियाने के मामले में शुक्रवार को दो सगे भाई सहित तीन आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। एएपी अनीस अहमद खान ने बताया कि सरदारशहर थाने में दर्ज मामले के अनुसार मुकेश पुत्र पूर्णचंद सैनी, सूरजकुमार पुत्र मुन्नालाल सैनी निवासी जयपुर और शैलेषकुमार पुत्र बसंतलाल राणा निवासी सूरत हाल जयपुर 25 सितंबर, 2010 को सरदारशहर में हीरे बेचने आए थे।

दलीप व दीनदयाल उर्फ दिनेश पुत्र बद्रीप्रसाद सोनी निवासी वार्ड एक, सरदारशहर और गजानंद पुत्र किशनलाल सोनी निवासी मोमासार, श्रीडूंगरगढ़ (बीकानेर) ने तीनों की हत्या कर शव अलग अलग स्थानों पर फेंक दिए। आरोपियों ने उनके पास से हीरे से भरी पोलकी ले ली। पुलिस ने एक शव की शिनाख्त होने और मामला दर्ज होने के दो दिन बाद ही मामले का खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार किया।

आरोपी के पास से हीरा बेचने वालों से लूटी गई हीरे से भरी पोलकी भी जब्त कर ली। आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया गया। एडीजे रंजना सर्राफ ने तीनों आरोपियों को उम्र कैद की सजा सुनाई। अभियोजन पक्ष की तरफ से 40 गवाह पेश किए। राज्य सरकार की तरफ से पैरवी एपीपी अनीस अहमद खान ने की

शव की शिनाख्त के बाद कॉल डिटेल व लोकेशन के आधार पुलिस ने दो दिन बाद ही कर दिया खुलासा

सरदारशहर पुलिस ने हत्या के दो दिन बाद ही आरोपी दो सगे भाइयों को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया था। शवों की शिनाख्त होने के बाद पुलिस ने कॉल डिटेल व लोकेशन के आधार पर 28 और 29 सितंबर को सरदारशहर निवासी आरोपी दिलीप, दीनदयाल और गजानंद को गिरफ्तार कर कोर्ट में चालान पेश किया था। आरोपियो में दीनदयाल और दिलीप सगे भाई हैं और गजानंद इनकी बुआ का बेटा है। पुलिस से बचने के लिए आरोपियों ने तीनों के शव अलग-अलग जगह पर फेंके थे।

कर्ज उतारने के लिए की हत्या, पहले कॉफी में जहर मिलाया, फिर कार की सीट बेल्ट से गला घोंटा
तीनों आरोपियों ने कर्जा उतारने के लिए हीरा बेचने आए युवकों की हत्या की। तीनों व्यापारी 24 सितंबर, 2010 को बस से सरदारशहर आए और होटल में ठहरे थे। 25 सितंबर को दीनदयाल उर्फ दिनेश पुत्र बद्रीप्रसाद सोनी निवासी सरदारशहर होटल आया और अपने दोस्त से मांगकर लाई गई गाड़ी में बैठाकर तीनों को अपने घर ले गया। तीनों व्यापारी सरदारशहर में डायमंड पोलकी की सप्लाई करते थे और कई बार आ चुके थे। कर्ज में डूबे दीनदयाल ने षडयंत्र रचा। उसने अपने भाई दलीप के सहयोग से तीनों को कॉफी में जहरीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया।

इससे तीनों बेहोश हो गए। शैलेष की मौत हो गई। आरोपी तीनों को कार में डालकर ले गए और मुकेश व सूरज की सीट बेल्ट से गला घोंटकर हत्या कर दी। आरोपियों ने मुकेश का शव पुलासर के पास, शैलेष का शव ठुकरियासर, श्रीडूंगरगढ़ व सूरज का शव बिग्गा, श्रीडंगरगढ़ में फेंक दिया। तीनों की पहचान होने के बाद थाने में हत्या का मामला दर्ज हुआ। एक की हत्या का मामला सरदारशहर व दो की हत्या का मामला श्रीडूंगरगढ़ थाने में दर्ज हुआ। घटनास्थल सरदारशहर होने पर इसकी सुनवाई पहले सरदारशह फिर चूरू एडीजे कोर्ट में हुई।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें