नवरात्र आज से:आज अभिजीत मुहूर्त में होगी घट स्थापना, जिले में 3.5 करोड़ रु. के 500 दुपहिया वाहनों की होगी खरीदारी

चूरू18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मां काली का किया शृंगार। - Dainik Bhaskar
मां काली का किया शृंगार।
  • घोड़े पर सवार होकर आएगी मां दुर्गा, 8 दिन का होगा नवरात्र, शहर में 10 स्थानों पर होगा दुर्गा पूजा महोत्सव

नवरात्र पर गुरुवार को अभिजीत मुहूर्त में घर-घर घट स्थापना होगी। शहर में करीब 10 से अधिक स्थानों पर दुर्गा पूजा महोत्सव कार्यक्रम होंगे। हालांकि सार्वजनिक कार्यक्रम बहुत कम हो रहे हैं, क्योंकि प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है। इधर, नवरात्रि में शुभ मुहूर्त को लेकर करीब 3.5 करोड़ 500 दुपहिया वाहनों की जिले में खरीदारी होगी। करीब 100 वाहनों की तो एडवांस बुकिंग हो चुकी है।

शारदीय नवरात्र इस बार चतुर्थी तिथि क्षय होने के कारण 8 दिन ही हो सकेंगे। विजय दशमी का त्योहार 15 अक्टूबर को मनाया जाएगा। ज्योतिषाचार्य मुखराम ने बताया कि शारदीय नवरात्र गुरुवार से शुरू होकर अगले गुरुवार को पूरे होंगे। इस दौरान मां भगवती, संकट मोचन हनुमान जी की आराधना का विशेष महत्व एवं फल है।

ये मां काली की तस्वीर कालका माता श्यानणधाम (सांडनधाम) की है। पुजारी दुलाराम गुर्जर ने बताया कि यहां 9 दिन तक सुबह सवा चार व शाम सात बजे विशेष पूजा होगी। अष्टमी को धोक लगेगी। मां काली को नवरात्र को लेकर नई पोशाक पहनाकर शृंगारित किया गया है। मंदिर में मां के दर्शन के लिए नवरात्र में आस-पास के गांवों व जिले सहित अनेक क्षेत्रों से श्रद्धालु आएंगे।

नवरात्र के 8 में से 6 दिन रवियोग, खरीदारी सहित शुभ कार्य होंगे

नवरात्र के 8 में से 6 दिन 8, 9, 10, 11, 12, 14 अक्टूबर को रवियोग रहेगा। 15 अक्टूबर दशहरा पूर्ण रवि योग भी पूरे दिन खरीदारी के लिए शुभ रहेगा। टीवीएस के संचालक राकेश कस्वां ने बताया कि उनके यहां 35 दुपहिया वाहनों की एडवांस बुकिंग हाे चुकी है। उन्होंने बताया कि नवरात्र पर जिले में करीब 500 वाहनों की खरीदारी होगी। इधर, हुंडई के सेल्स मैनेजर शुभम शर्मा ने बताया कि चार पहिया वाहनों की डिमांड खूब है, मगर पीछे से सेमी कडेक्टर चिप मलेशिया से नहीं आने के कारण प्रोडक्ट कम हो रहा है, जिसके कारण वाहनों की आवक कम है।

सार्वजनिक आयोजन की परमिशन किसी को नहीं दी गई : एसडीएम
एसडीएम अभिषेक खन्ना का कहना है कि नवरात्र व दुर्गा पूजा महोत्सव को लेकर सार्वजनिक आयोजन की इजाजत किसी को भी नहीं दी गई है। राज्य सरकार की गाइडलाइन की पालना की जाएगी।

खबरें और भी हैं...