दिल्ली से पदयात्रा:साध्वी कनकश्री व शशिरेखा का सुजानगढ़ में स्वागत

चूरू11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आचार्य महाश्रमण की शिष्या साध्वी कनकश्री व साध्वी शशिरेखा का दिल्ली से पदयात्रा करते हुए सुजानगढ़ पहुंचने पर अणुव्रत समिति की ओर से स्वागत किया गया। समिति संरक्षक निर्मल कोठारी, अध्यक्ष महेश तंवर व दिल्ली तेरापंथ के अध्यक्ष विकास बोथरा के नेतृत्व में साध्वियों का स्वागत किया। साध्वी कनकश्री ने कहा कि प्राचीन काल से ही मान्यता रही है कि साधु संत जहां से भी गुजरते हैं, वहां का वातावरण सुगंधित हो जाता है। साध्वी ने अणुव्रत समिति के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि अणुव्रत के प्रणेता आचार्य श्री तुलसी थे, जो एक महान युगद्रष्टा थे।

चाइनीज मांझा जलाकर एबीवीपी ने जताया विरोध अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने राजकीय लोहिया कॉलेज के आगे चाइनीज मांझा जलाकर विरोध जताया। मकर संक्रांति पर होने वाली पतंगबाजी में इसका उपयोग नहीं करने का आह्वान किया। नगर मंत्री ऋषिराज राठौड़ ने बताया कि पतंगबाजी के दौरान चाइनीज मांझे का उपयोग खुलेआम हो रहा है, जो जानवरों सहित आमजन के लिए घातक साबित हो रहा है।

इसकी चपेट में आने से बेजुबान जानवर व लोग घायल हो रहे हैं। इस दौरान प्रांत सहमंत्री हरीश कुमार वर्मा, मुकुल सारस्वत, प्रकाशसिंह, विनोद बिजारणिया, सुशील राठी, मुकेश मेघवाल, सतीश कुमार, अंकित फगेड़िया, रवि, लक्ष्मण प्रजापत आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...