सूदखोरों से तंग शिक्षक ने लगाई पुलिस से गुहार:2017 में 13 लाख रूपए लिए थे उधार, अब तक 56 लाख चुकाए, अभी भी कर रहे 30 लाख की मांग

फतेहपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

फतेहपुर में सूदखोरों से परेशान एक सरकारी शिक्षक ने पुलिस से मदद की गुहार लगाई है। शिक्षक का आरोप है कि उसने सूदखोरों से 2017 में लिए 13 लाख रुपए के बदले अब तक 56 लाख रुपए चूका दिए। लेकिन अभी भी 30 लाख रूपए देने मांग रहे है। साथ ही जान से मारने की धमकियां दे रहे है।

शिक्षक की एफआईआर के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है। डीवाईएसपी राजेश कुमार विद्यार्थी ने बताया कि शेखीसर निवासी भंवरलाल मेव पुत्र सीताराम मेव ने सदर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। भंवरलाल मेव सरकारी शिक्षक है। जो 2012 में सरकारी सेवा में भर्ती हुआ था। व सदर थाना इलाके के ढाणी बैजनाथ गांव में स्थित विद्यालय में कार्यरत है।

दोस्त व जीजा को दिलाया था कर्ज
शिक्षक ने सूदखोरों से 6 लाख रूपए अपने दोस्त को व्यापार शुरू करने के लिए दिलवाए थे। दोस्त को व्यापार में घाटा लग जाने के बाद वह विदेश चला गया। 3 लाख रूपए अपने जीजा को दिलवाए थे। जीजा का भी सड़क दुर्घटना में निधन हो गया। इसके अलावा पीड़ित शिक्षक पर 4 लाख का पहले से कर्जा था।

2 रूपए सैकड़ा बताकर 15 रूपए सैकड़ा ब्याज वसूल रहे
पीड़ित शिक्षक ने आरोपी सुरेश उर्फ प्यारेलाल, नेमीचंद, सुनील व विक्रम से 2017 में लिए 13 लाख रुपए 2 रूपए सैकड़ा ब्याज में पैसा लिया था। लेकिन आरोपियों ने 15 रूपए प्रति सैकड़ा से ब्याज वसूली करना शुरू कर दिए।

मुख्य आरोपी सुरेश को 15 मार्च 2018 से 20 दिसंबर 2020 तक साढ़े पांच लाख के बदले 20 लाख 60 हजार रुपए चुका दिए। उसके बाद भी वह भी 12 लाख 50 हजार रुपए बकाया बता रहा है।

बांठोद निवासी नेमीचंद को पिछले दो वर्ष में दो लाख रुपए के बदले 7 लाख 20 हजार चुका दिया। भोजदेसर निवासी सुनील को 1 लाख रुपए के बदले 5 लाख चालीस हजार रुपए चुकाएं। हुडेरा निवासी विक्रम को 8 लाख के बदले 23 लाख 45 हजार रुपए चूका दिए। उसके बाद भी अभी मूल रकम बाकी बता रहा है। भंवरलाल ने बताया कि 3 साल में अपने वेतन से लोन लेकर व साथियों से उधार लेकर 56 लाख रूपए चुका दिए। फिर भी 30 रुपए बाकी बता रहे हैं।

नौकरी, पत्नी के गहनों पर लोन लिया, गाड़ी बेची
पीड़ित ने बताया कि कर्जा चुकाने के लिए अपनी नौकरी पर, पत्नी के गहनों पर लोन लिया, कार को बेच दिया। इसके बाद भी आरोपी घर जाकर पत्नी और बच्चों को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। 25 दिन पहले आरोपी स्कूल में आया था। वहां पर भी गाली गलौज करने लगा। आरोपी ने डरा धमका कर मेरे से स्टांप पर साइन करवाकर चेक ले लिए। अब आरोपी जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। शिकायत पर सदर थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...