पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दौरा:त्रिपुरा से आई टीम को सौंपा नाबालिग को, 5 लाख रु. की सहायता मिलेगी

झुंझुनू10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल झुंझुनूं आई, त्रिपुरा की नाबालिग की पीड़ा सुनी

राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल के प्रयासों से एक नाबालिग को त्रिपुरा से आई टीम को सौंपा गया। इस बालिका का पुनर्वास करवाने के लिए इसे पीड़ित प्रतिकर योजना के तहत सरकार की ओर से ढाई लाख रुपए तथा इतनी ही राशि त्रिपुरा सरकार की अोर से देने की घोषणा की गई। मंगलवार को सर्किट हाउस में महिला कल्याण समिति की ओर से त्रिपुरा की टीम को इस बालिका को सौंपने के कागजात दिए गए।

इसके बाद शहर की स्वयं सेवी संस्था जिला पर्यावरण सुधार समिति के स्वाधार गृह में रखी गई इस नाबालिग को त्रिपुरा की टीम को सौंपा गया। इस नाबालिग को त्रिपुरा के एक दलाल ने स्थानीय दलाल की मदद से डेढ़ लाख रुपए में मंडावा के एक युवक को उम्र और धर्म छिपा कर शादी करवा दी गई थी। आयोग अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने कहा कि हाल के वर्षों में वूमन ट्रैफिकिंग के कई मामले सामने आए हैं जिन पर आयोग ने प्रसंज्ञान लिया है। सरकार इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए कार्य योजना बना रही है। इस काम में लिप्त लोगों का पता लगा कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इस मामले में जिन लोगों की भी लिप्तता रही है, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। अभी तक चार से पांच लोगों को पकड़ा जा चुका है, लेकिन इसका मुख्य आरोपी जो त्रिपुरा का रहने वाला है, उसे नहीं पकड़ा जा सका है। इस दौरान आयोग के सदस्य शिव भगवान नागा, उप निदेशक पवन पूनिया, महिला बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष गायत्री शर्मा, बाल अधिकारिता विभाग की सहायक निदेशक प्रिया चौधरी, महिला अधिकारिता विभाग के संयुक्त सचिव विप्लव न्यौला, श्रम कल्याण अधिकारी अरुणा  शर्मा, सांख्यिकी विभाग के उप निदेशक बाबूलाल रैगर सहित अनेक लोग मौजूद थे। गौरतलब है कि नाबालिग को मंडावा के युवक को बेच दिया था। जिससे ये गर्भवती हो गई। बाद में इसका अबॉर्शन करवा दिया गया। 

राजस्थान और त्रिपुरा सरकार देगी ढाई-ढाई लाख रु. 
 राज्य सरकार की ओर से ऐसे मामलों में निर्धारित पीड़ित प्रतिकर योजना के तहत अंतरिम सहायता के तौर पर ढाई लाख रुपए देने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। त्रिपुरा सरकार भी इतनी ही राशि इस नाबालिग के परिवार को देगी। त्रिपुरा आईसीडीएस के सुरपवाइजर सुमित दास, उनके साथ आई चाइल्ड लाइन हैल्पलाइन की सदस्य, एक महिला और एक पुलिस कांस्टेबल की टीम को नाबालिग को सौंपा गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

    और पढ़ें