पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सम्मान:ऑनलाइन ठगों से 8 लाख रु. रिकवर करने वाले सीआई का सम्मान, पीड़ित सेवानिवृत्त फौजी ने सीआई को किया सैल्यूट

नवलगढ़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नवलगढ़. ग्रामीणों ने सीआई व पुलिस टीम का किया सम्मान। - Dainik Bhaskar
नवलगढ़. ग्रामीणों ने सीआई व पुलिस टीम का किया सम्मान।
  • सीआई बोले-सम्मान से पुलिस के प्रति बढ़ेगा विश्वास

पुलिस थाने के सामने लोग अक्सर प्रदर्शन करने या किसी विवाद को लेकर ही एकत्रित होते हैं, लेकिन मंगलवार को लोगों के हाथों में फूल मालाएं थी। लोग सीआई सुनील शर्मा का थाने में आने का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। जैसे ही सीआई सुनील शर्मा वहां पहुंचे तो लोगों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया। देलसर कलां से सेवानिवृत फौजी प्रमोद कुमार ने माला पहनाकर उनको सैल्यूट किया।

एक पुलिस अधिकारी के सामने इससे खूबसूरत तस्वीर नहीं हो सकती है। यह मौका था पुलिस के सम्मान का। देलसर कला के निवासी सेवानिवृत फौजी प्रमोद कुमार के साथ आठ लाख रुपए की ऑनलाइन ठगी जामताड़ा के साइबरों ठगों ने कर ली थी। शिकायत मिलने पर सीआई सुनील शर्मा बिना समय गंवाए इस मामले की पड़ताल में जुट गए और पूरे आठ लाख रुपए रिकवर करवा दिए।

इस रिकवरी के बाद फौजी का पूरा परिवार खुश था। इसके बाद उन्होंने मंगलवार को सीआई सुनील शर्मा, कास्टेबल अशोक कुमावत व मुकेश कुमार का सम्मान पुलिस थाने के सामने किया। सेवानिवृत फौजी प्रमोद कुमार ने कहा कि मै व मेरा परिवार जिंदगी भर आभारी रहेंगे।

सीआई सुनील शर्मा ने कहा इस सम्मान से पुलिस का हौसला बढ़ेगा और पुलिस के प्रति जनता में विश्वास बढ़ेगा। ठगी के आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। इस मौके पर जवाहरसिंह, हजारीलाल, श्रवण गोदारा, राजपालसिंह, नरेंद्र, विक्रमसिंह, विजेंद्र लुणायच, बलवीरसिंह, बलवंत, संदीप खीचड़ व संदीप लुणायच आदि मौजूद थे। इस दौरान मिठाई बांटी गई।

साइबर क्राइम रोकने के लिए दी जा रही तकनीकी ट्रेनिंग

सीआई सुनील शर्मा शर्मा ने कहा कि पुलिस अधीक्षक मनीष त्रिपाठी ने इस सफलता पर टीम को बधाई दी है, उन्होंने विश्वास दिलाया है कि जिले में साइबर क्राइम रोकने के लिए टीम को मजबूत किया जाएगा और उनको विशेष ट्रेनिंग दी जाएगी। साइबर ठगी को रोकने के लिए पब्लिक का जागरुक होना सबसे ज्यादा जरुरी है। ऑनलाइन ठगी में 72 घंटे सबसे महत्वपूर्ण होते हंै। पुलिस को तकनीकी ज्ञान के लिए ट्रेनिंग दी जा रही है। एसपी साहब ने साॅफ्टवेयर खरीदने की बात कही है।

खबरें और भी हैं...