पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिक्षा:दो साल बाद जिले की 13 हजार 838 बेटियाें काे मिलेगी साइकिल

झुंझुनूं4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पिछले सत्र में कोरोना के कारण 7081 को नहीं मिली थी साइकिल, मौजूदा सत्र में 6757 छात्राओं का हुआ चयन

दाे साल से साइकिल मिलने का इंतजार कर रही जिले की सरकारी स्कूलाें की कक्षा 9 और 10वीं की छात्राओं काे जल्द ही साइकिल मिलेंगी। इसके लिए शिक्षा विभाग ने जिलावार पात्र छात्राओं की सूची मंगवा ली है।

इसमें जिले की 13 हजार 838 छात्राओं का चयन हुआ है। जिसमें पिछले सत्र की 7081 और वर्तमान सत्र की 6757 बेटियाें काे इसका फायदा मिलेगा। जानकारी के अनुसार काेराेना के चलते वर्ष 2020-21 में कक्षा 9 की छात्राओं काे साइकिल नहीं मिल पाई थी।

साइकिल के लिए बजट भी नहीं जारी हाे पाया, लेकिन अब सरकार ने शिक्षा विभाग काे साइकिल के लिए बजट आवंटित कर दिया है। इसके बाद शिक्षा विभाग ने जिले से साइकिल की पात्र बेटियाें की सूची तैयार कर शिक्षा विभाग काे भिजवा दी है।

डीईओं माध्यमिक अमरसिंह पचार ने बताया कि वर्ष 2019-20 में 7198 छात्राओं काे साइकिल दी गई थी। जिनमें से 89 छात्राओं की साइकिल वितरित नहीं हाे पाई। अन्य छात्राओं काे ब्लाॅकवार साइकिल का वितरण किया जा चुका है, लेकिन उसके बाद साइकिल नहीं आई थी। जिसके कारण से पिछले सत्र की सरकारी स्कूलाें की पात्र छात्राओं काे साइकिल वितरण नहीं हाे पाया था।

जिले में ब्लाॅकवार देखे ताे उदयपुरवाटी छात्राओं काे सबसे ज्यादा 2499 साइकिल मिलेगी। इसके बाद नवलगढ़ 2171, खेतड़ी 2019, झुंझुनूं 1718, सूरजगढ़ 1622, अलसीसर 1335, चिड़ावा 1249 और बुहाना में 1225 छात्राओं काे साइकिल दी जानी है।

जिले में सरकारी स्कूल की पिछले सत्र और वर्तमान सत्र की छात्राओं साइकिल देने के लिए शिक्षा विभाग ने सूचियां मंगवाई हैं। जिसके बाद उनकाे शिक्षा विभाग की ओर से साइकिल भिजवाई जाएंगी। जिन्हें ब्लाॅकवार वितरण किया जाएगा।
-नीरज सिहाग, एडीईओ और प्रभारी

कक्षा 9 की छात्राओं काे मिलती है साइकिल, शिक्षा विभाग ने भेजी छात्राओं की सूची
सरकारी स्कूलाें की कक्षा 9 में पढ़ने वाली छात्राओं काे स्कूल आने के लिए शिक्षा विभाग की और से दाे तरह की सुविधाएं मिलती हैं। इसमें ट्रांसपाेर्ट वाउचर व साइकिल दी जाती है। ट्रांसपाेर्ट वाउचर नहीं लेने वाली छात्राओं काे साइकिल दी जाती है। जिले में पिछले सत्र में 7406 छात्राओं में से 236 ट्रांसपाेर्ट वाउचर ले रही हैं। वहीं इस सत्र में 6902 छात्राओं में से 145 बेटियां ये सुविधा ले रही हैं।

खबरें और भी हैं...