पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लुटेरी बहू :रिश्ते में मामा से कहकर अपने ही घर में गहनों की लूट करवाई, आधा हिस्सा खुद ने मांगा

झुंझुनूं15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • घर में ही लूट की साजिश - झुंझुनूं की रायका कॉलोनी में सैनिक के घर 50 लाख के गहनों की लूट का मामला
Advertisement
Advertisement

शहर के रायका काॅलाेनी में सैनिक के घर 50 लाख के गहनों व 40 हजार रुपए की लूट की साजिश घर में ही रची गई और यह साजिशकर्ता थी परिवार की बहू। रिश्ते मे अपने मामा के साथ बहू ने यह साजिश रची और फिर वह कर दिया जिसकी किसी ने कल्पना तक नहीं की थी। पुलिस ने मामले में बबीता पत्नी रविसिंह को गिरफ्तार कर लिया है। सामने आया है कि इसने अपने रिश्ते में मामा खरक कलां निवासी मुकेश को यह कहकर उकसाया कि ससुराल वाले दहेज के रुप में कार मांग रहे हैं। हमारे घर में गहने हैं। इन्हें लूटकर बेच देंगे और जो रकम आएगी उससे कार लाकर दें देंगे। इनके बीच यह भी तय हुआ कि शेष गहनों में से आधा हिस्सा उसे वापस लौटा दिया जाएगा। हालाकि अभी तक दहेज में कार मांगने जैसी बात सामने नहीं आई है, लेकिन इतना जरुर पता चला है कि एक बार पति ने बबीता को यह कहा था कि हम क्रिएटा कार लाएंगे। तभी बबीता ने यह प्लान बनाया कि वह घर के गहने लूटवा कर पैसों का इंतजाम करेगी। इस बीच पुलिस ने रिमांड पर चल रहे आराेपियाें की निशानदेही पर 400 ग्राम सोने व 1800 ग्राम चांदी के जेवरात बरामद कर लिए हैं। मामले में पुलिस मुकेश सिंह, दीपक सिंह व नकुल को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी हैं। काेतवाल गाेपाल सिंह ढाका ने बताया कि पूछताछ जारी है।

   रिश्तेदार को यह कहकर उकसाया कि ससुराल वाले कार मांग रहे हैं, गहने बेचकर कार ला देंगे

घर से ही गहनों की लूट के लिए बबीता ने अपने ननिहाल  खरक कलां (भिवानी) निवासी मामा मुकेश काे तैयार किया। उसने मुकेश को यह कहकर उकसाया कि ससुराल वाले कार मांग रहे हैं। ऐसे में गहने लूट लें और उन पैसों से कार ला दे। मुकेश इसके लिए तैयार हो गया। इसके बाद मुकेश ने अपने गांव के ही दीपक सिंह व सेना भर्ती की तैयारी करने वाले गरनावठी कलानाैर (राेहतक) निवासी नकुल काे व एक अन्य काे तैयार किया। तय योजना के मुताबिक ये लोग 11-12 जून की रात घर में पहुंचे। इन्हें पहले से पता था कि गहनें कहां रखें हैं। घर में घुसने के बाद इन्होंने बबीता समेत उसकी दादीसास, सास, नणद व भांजे को कमरे में बंद कर दिया और गहने लूट ले गए। फरवरी से रच रही थी साजिश : पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि बबीता फरवरी से ही लूट की वारदात की साजिश रच रही थी। उस वक्त घर में उसके खुद के और सास के गहने थे। ऐसे में उसने अपनी नणद के आने का इंतजार किया। ताकि उसके गहने भी साथ में लूटे जा सकें। जब नणद यहां आई तो उसके गहने भी घर में रखे थे। योजनानुसार बबीता ने मुकेश को बता दिया। इसके बाद मुकेश अपने तीन साथियों को लेकर यहां पहुंचा। घर में घुसने के बाद खुद मुकेश कुछ नहीं बोला। उसके साथियों ने ही धमकी दी और सभी को कमरे में बंद कर दिया।

वारदात के बाद सास के साथ बैठी रही, शक नहीं होने दिया

वारदात के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो बबीता की सास सुमित्रा ने रोते हुए सबको लूट के बारे में बताया। इस दौरान उसका दोहिता पास में सहमा हुआ बैठा रहा जबकि खुद बबीता घूंघट लगाए सारी बातें सुनती रही। बीच बीच में उसके रोने की आवाजें भी आती रही। उसने तबीयत खराब होने की भी बात भी कही। जिस पर पड़ौसी उसे अपने घर लेकर गए थे। ताकि वह सामान्य हो सके। लेकिन ये सब उसका नाटक ही था। 

पहले ही दिन से पुलिस को शक था, इस तरह सबूत जुटाए

1. केवल एक बक्शा बिखरा था : कमरे में15-16 बक्शे व आलमारी थी। वारदात के  बाद पुलिस को कमरे में केवल एक बक्शा बिखरा मिला। इसमें से भी केवल जेवरात गायब थे। यहीं से पुलिस की नजर घरवालों पर टिक गई।

2. दो आरोपी बिल्कुल चुप रहे : वारदात के बाद सास ने पूछताछ में बताया कि चार में से दो बदमाश एकदम चुप रहे। वे इशारों में बातें करते रहे। परिवार वालों के सामने आने से बचते रहे। इस सुराग ने पुलिस के शक को मजबूत किया।

3. साधारण घर में इतनी बड़ी वारदात : पुलिस को तीसरा शक इस बात से हुआ कि साधारण दिखने वाले घर में आखिर बदमाश क्यों घुसेंगे। ऐसा केवल तभी हो सकता है जब उन्हें पहले से बड़ी रकम या जेवरात का पता हो।

4. आरोपी बहू के ननिहाल के : पुलिस को अब तक यह तो शक हो चुका था कि साजिश घर के ही किसी सदस्य ने रची है। 25 जून को तीन आरोपी पकड़े  गए। इनमें दो खरक कलां के थे। यही बहू का ननिहाल है। इसी से पुलिस को शक पक्का हो गया।

5. पूछताछ में बहू का नाम आया : तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उनसे सख्ती से पूछताछ की। बहू को लेकर जो शक था पुलिस ने उसे ही टार्गेट पर रखा और तीनों से उसके बारे में पूछताछ की तो फिर सच सामने आ गया। 

भास्कर ने पहले ही बता दिया था परिचित का हाथ
वारदात के पहले ही दिन दैनिक भास्कर ने यह बता दिया था कि इसमें परिचित का ही हाथ है। इसके बाद पुलिस ने भास्कर ने फिर बताया था मुकेश के गांव में ही इनके रिश्तेदार भी रहते हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज का दिन पारिवारिक और आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदायी है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ निश्चय से पूरा करने की क्षमत...

और पढ़ें

Advertisement