पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कर्ज के बोझ में दबी जिंदगी:साढ़े 4 लाख उधार लिए, पौने 8 लाख चुकाए फिर भी पांच लाख बाकी, परेशान हो जान दी

चिड़ावा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बेटे व पत्नी के साथ रोहिताश्व। - Dainik Bhaskar
बेटे व पत्नी के साथ रोहिताश्व।
  • साढ़े 4 लाख उधार लिए, पौने 8 लाख चुकाए फिर भी पांच लाख बाकी, परेशान हो जान दी

परचूनी की दुकान चलाकर किराए के मकान में रहने वाले एक शख्स की जिंदगी कर्ज के बोझ तले ऐसी दबी कि उसकी जान ही चली गई। सूदखोरों की धमकियों से परेशान हो इस शख्स ने मंगलवार को खुद के निर्माणाधीन मकान में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को उसके पास से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने कर्ज और सूदखोरों का पूरा कच्चा चिट्‌ठा लिखा है। मामले में मृतक के बड़े भाई हवासिंह ने एक महिला समेत उसके परिचितों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

इससे पहले परिजन रिपोर्ट दर्ज नहीं होने तक पोस्टमार्टम नहीं करवाने पर अड़ गए। लिखित कॉपी मिलने के बाद ही उन्होंने पोस्टमार्टम करवाया। पुलिस के अनुसार सिंघाना थाना क्षेत्र के सैदपुर निवासी रोहिताश्व (36) पुत्र हनुमानाराम मेघवाल मंड्रेला रोड पानी की टंकी के पास परचून की दुकान चलाता था। चार पांच साल से वह पत्नी सरोज, दो बेटों मोहित व पीयूष के साथ दुकान के पास ही किराए के मकान में रह रहा था।

सवेरे करीब पांच बजे उसने गांव में रहने वाले छोटे भाई नागेश को व्हाट्स एप पर सुसाइड नोट भेजा। नागेश ने करीब सवा छह बजे अपना व्हाट्स एप देखा तो तुरंत ही बड़े भाइयों, परिवारजनों और कोपरिया कुआं तन नरहड़ रह रहे रोहिताश्व के ससुराल वालों और पुलिस को सूचना दी। परिवार वालों के पहुंचने से पहले रेलवे स्टेशन पुलिस चौकी प्रभारी बलवीर चावला मौके पर पहुंच गए। जहां रोहिताश्व फांसी के फंदे से लटका मिला। सूचना पर डीएसपी सुरेश शर्मा मौके पर पहुंचे।

कर्ज का बेहिसाब : रोजाना 1500 रुपए की किश्त चुकानी पड़ती थी, जिस दिन नहीं चुकाई उस दिन पैनेल्टी के 2000 रुपए भी जुड़ जाते थे
रोहिताश्व ने पप्पू नेहरा से दो लाख रुपए उधार लिए। इसकी एवज में दो लाख पच्चीस हजार रुपए चुका दिए फिर भी तीन लाख रुपए बकाया है। अरुण नूनिया से एक लाख रुपए लिए। जिसकी एवज में साढ़े पांच लाख रुपए चुका दिए। इसके बावजूद दो लाख रुपए बाकी है। इसी प्रकार उमराव से डेढ़ लाख रुपए लिए। यह पूरी रकम, उसका ब्याज बाकी है। ये लोग इसकी वसूली 1500 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से करते थे।

यह किश्त नहीं चुकाने पर दो हजार रुपए का जुर्माना लगाया जाता था। यानी एक भी दिन किश्त चुकी तो 3500 रुपए चुकाने होते थे। सुसाइड नोट में रोहिताश्व ने एक महिला सुमन कुमारी को पत्नी की नौकरी के लिए 12 लाख रुपए देने की बात लिखी है। इसी महिला ने रोहिताश्व को अपने परिचितों व रिश्तेदारों से कर्जा भी दिलवाया।

रोहिताश्व के भाई की ओर से दी गई रिपोर्ट में बताया गया है कि सुमन कुमारी पत्नी संदीप श्योराण, उसके परिचित व रिश्तेदार पप्पू नेहरा, अरुण नूनिया, उमराव व सुरेंद्र से रोहिताश्व का पैसों का लेन देन था। सुमन ने उसकी पत्नी की नौकरी लगवाने के नाम पर 12 लाख रुपए लिए, लेकिन कोई नौकरी नहीं लगवाई और ना ही पैसे लौटाए। इसी प्रकार फाइनेंस का काम करने वाले सुरेंद्र ने उसके भाई से पांच लाख रुपए लिए और कहा कि हर महीने आपको 35000 रुपए मिलेंगे, लेकिन उसने भी यह रकम नहीं लौटाई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें