पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मानसून का दूसरा दिन:चिड़ावा में सर्वाधिक 17 मिमी बरसात हुई, झुंझुनूं में होती रही रिमझिम

झुंझुनूं21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
चिड़ावा. बुधवार दोपहर हुई बरसात के बाद पुरानी तहसील रोड पर भरे पानी से बचकर गुजरते राहगीर। - Dainik Bhaskar
चिड़ावा. बुधवार दोपहर हुई बरसात के बाद पुरानी तहसील रोड पर भरे पानी से बचकर गुजरते राहगीर।
  • जिला मुख्यालय पर दो बार रिमझिम हुई, मलसीसर और नवलगढ़ इलाके में भी नहीं हुई बरसात

मानसून के दूसरे दिन भी जिले में कई जगह बरसात हुई। हालांकि चिड़ावा को छोड़कर कहीं भी ज्यादा बरसात नहीं हुई। मलसीसर और नवलगढ़ में बादलों ने तरसाया। जिला मुख्यालय पर दिन में दो बार करीब एक घंटे तक रिमझिम हुई। यहां पर सिर्फ एक एमएम बरसात दर्ज की गई।

चिड़ावा में सर्वाधिक 17 मिमी बरसात हुई। इसके अलावा खेतड़ी और सूरजगढ़ में सात-सात एमएम बारिश दर्ज की गई। जबकि उदयपुरवाटी व बुहाना में पांच-पांच एमएम बारिश हुई। इस बार काफी विलंब से आए मानसून की बेरुखी किसानों को परेशान कर रही है।

चिड़ावा | शहर में बुधवार को दूसरे दिन भी बरसात हुई। इलाके में मंगलवार से शुरू हुए बारिश के क्रम ने बढ़ती गर्मी के असर को कम कर दिया। उपखंड कार्यालय के सहायक प्रशासनिक अधिकारी कैलाशसिंह कविया ने क्षेत्र में 17 मिमी बरसात होने की जानकारी दी। बारिश के कारण मुख्य सड़कों और गली-मोहल्लों के रास्तों पर पानी भर गया। इसके कारण लोगों को आवागमन में परेशानी हुई।

सिंघाना क्षेत्र में रुक-रुककर हुई बरसात, खेतड़ी और सूरजगढ़ में सात-सात मिमी बारिश

सिंघाना | सिंघाना क्षेत्र में बुधवार को सुबह से ही रुक रुककर बरसात होती रही। पूरे दिन सूरज बादलों के बीच छुपा रहा। बारिश होने से गर्मी से राहत मिली। किसान पिछले 20 दिनों से बरसात होने का इंतजार कर रहे थे। बरसात होने से किसानों के चेहरे पर चमक आई। सिंघाना में मुख्य बाजार से नारनौल सर्किल जाने रास्ते पर पानी एकत्रित हो जाने के कारण राहगीरों को परेशानी उठानी पड़ी। मुख्य बाजार, हरिदास मार्केट, नारनौल सर्किल की सड़कों पर पानी भर गया।

बाघोली | मणकसास व बाघोली में बुधवार को दूसरे दिन भी एक घंटे तक अच्छी बारिश हुई। बाघोली की ढाणी सालासर में अच्छी बारिश से आने से खेत भी लबालब हो गए। सूखे पड़े एनीकट, जोहड़ व बांधों में भी थोड़ा पानी इकट्ठा हुआ। मणकसास के बाबूलाल फौजी ने बताया कि 2 दिन से बारिश से मणकसास व खोह के नालों में बरसाती पानी का बहाव आया। खेती में पानी भरने से फसल को लाभ मिला।

खेतड़ी नगर | केसीसी टाउनशिप में सुबह से ही आसमान में बादल छाये हुए थे। दोपहर बारह बजे जमकर बरसात हुई। इससे पहले बूंदाबांदी होती रही। बरसात का पानी नालों में ओवर फ्लो होकर घरों में घुस गया। बरसात होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली।

खबरें और भी हैं...