कोरोना गाइड लाइन की पालना लिए प्रशासन सख्त:कलेक्टर-एसपी ने निकाला फ्लैग मार्च, मास्क बाट लोगों से की समझाइश

झुुंझुनूं4 महीने पहले
कोरोना गाइड लाइन की पालना लिए फ्लैैग मार्च निकाला।

कोरोना गाइड लाइन को लेकर प्रशासन सख्त नजर आ रहा है। लेकिन कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है। कोरोना गाइड लाइन की पालना करवाने के लिए कलेक्टर और एसपी स्वयं लोगों के बीच पहुंच रहे हैं। कलेक्टर यूडी खान और एसपी प्रदीप मोहन शर्मा ने बाजार और भीड़ वाले इलाकों में पहुंच कर मास्क वितरित किए। बाजार में दुकानदारों, रेहड़ी ठेले वालों ने मास्क नहीं लगा रखे थे। उन्हें अपने हाथों से मास्क प्रदान किए, तुरंत मास्क लगाने की हिदायत दी।

कलेक्टर और एसपी पूरे प्रशासनिक लवाजमा के साथ शहर में निकले थे। पैदल ही शहर मुख्य बाजार ताल बाजार, नेहरू मार्केट, शहीदान चौक सहित भीड़भाड़ वाले इलाकों में पहुंचकर कोरोना से बचाव के लिए मस्क और सोशियल डिस्टेंसिग को ही जरुरी बताया। कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे हर बाजारों में गश्त करें। कारोनो गाइड लाइन पालना नहीं करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा ने भी सभी थानाधिकारियों को मास्क नहीं लगाने वाले और सोशल डिस्टेंस नहीं रखने वालों के खिलाफ सख्ती बरतने का आदेश दिए हैं।

झुंझुनूं जिले में कोरोना की रफ्तार बहुत तेजी से बढ़ रही है। एक व्यक्ति की मौत भी हो चुकी है। झुंझुनूं में 15 बच्चे भी कारोना पॉजिटिव मिले हैं। जिले में कोरोना की रफ्तार अनकंट्रोल होती जा रही है। सरकारी दफ्तरों में भी कोरोना फेलचुका है। मलसीसर एसडीएम और पांच कार्मिक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पुलिस के जवान भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिले में एक जनवरी से 13 जनवरी तक 198 लोग पॉजिटिव आ चुके हैं। जिले में पिछले तीन दिनों 11, 12 और 13 जनवरी की रिपोर्ट में जिले में 141 लोग पॉजिटिव आ चुके हैं। जिले स्थित अनकंट्रोल की ओर बढ़ रही है। एक ही दिन में 15 बच्चे पॉजिटिव मिले है। ये सभी 12 से 18 साल की उम्र के ही है।