प्रदर्शन / कांग्रेस ने दिया धरना, नहीं आए जिलाध्यक्ष और विधायक

Congress gave strike, District President and MLA did not come
X
Congress gave strike, District President and MLA did not come

  • पेट्रोल व डीजल की दरों में बढ़ोतरी के खिलाफ था कांग्रेस का धरना, सोशल डिस्टेंसिंग की नहीं की पालना

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 07:27 AM IST

झुंझुनूं. पेट्राेल डीजल की कीमताें में हाे रही बढ़ाेतरी के विराेध में साेमवार काे कांग्रेस की ओर से कलेक्ट्रेट पर दिए गए धरने के दौरान कांग्रेस के ही बड़े नेता गायब रहे। ना तो जिलाध्यक्ष और ना ही कोई विधायक इस धरने में शामिल हुए। खास बात ये थी कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की पालना तक नहीं की गई। कांग्रेस नेता ना केवल नजदीक- नजदीक बैठे, बल्कि कुछ नेता ताे बगैर मास्क लगाए बैठे रहे।

इससे पूर्व सुबह करीब दस बजे धरना शुरू हुआ। करीब दाे घंटे तक कांग्रेस नेता पेट्राेल व डीजल की कीमताें में बढ़ाेतरी के लिए माेदी सरकार काे काेसते रहे। बाद में राष्ट्रपति के नाम कलेक्टर काे ज्ञापन देकर पेट्राेल डीजल की बढ़ी कीमताें काे वापस लेने की मांग की।

विधायक व जिलाध्यक्ष समेत बड़े नेता नहीं आए : धरने में कांग्रेस के सभी विधायकाें,  संगठन के पदाधिकारी व जनप्रतिनिधियाें काे बुलाया गया था, लेकिन कांग्रेस का काेई विधायक नहीं पहुंचा। यहां तक की कांग्रेस जिलाध्यक्ष एवं खेतड़ी विधायक डाॅ. जितेंद्र सिंह भी नहीं आए। विधायक बृजेंद्र ओला, जेपी चंदेलिया, रीटा चाैधरी, डाॅ. राजकुमार शर्मा और राजेंद्र गुढ़ा भी नहीं आए। जिला प्रमुख व अन्य जनप्रतिनिधि भी नहीं पहुंचे। जिलाध्यक्ष के नहीं आने पर जिला उपाध्यक्ष ताराचंद सैनी काे अध्यक्षता करनी पड़ी।

धरने की अध्यक्षता करते हुए जिला उपाध्यक्ष ताराचंद सैनी ने कहा कि केंद्र सरकार आ दिन डीजल पेट्राेल की कीमत बढाकर जनता की परेशानी बढ़ा रही है। कांग्रेस ओबीसी विभाग जिलाध्यक्ष मुरारी सैनी ने कहा लाॅक डाउन से परेशान जनता काे राहत देने की बजाय माेदी सरकार पेट्राेल डीजल की कीमताें में बेतहाशा बढ़ाेतरी कर  जनता पर आर्थिक बाेझ बढ़ा रही है। धरने काे  नगर परिषद के पूर्व सभापति खालिद हुसैन, पूर्व प्रधान निहाल सिंह रणवा, एमडी चाेपदार ने भी संबोधित किए।

जाे पहुंचे वे अपनी पीड़ा बताते रहे
धरने पर पूर्व प्रधान व उदयपुरवाटी से कांग्रेस प्रत्याशी रहे भगवानाराम सैनी ने बड़े नेताओं के नहीं आने पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि बुरा मत मान जाना, लेकिन धरने में शीर्ष नेता नहीं आए। उदयपुरवाटी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं काे प्रताड़ित किया जा रहा है। इस पर उन्हें टाेका गया ताे कहा कि हम दुखी हैं। घर में काेई सुनने वाला नहीं है। इसलिए सड़क पर अपना दुखड़ा सुना रहे हैं।

इन्होंने भी किया संबोधित
धरने को खेतड़ी ब्लॉक अध्यक्ष गोकुल चंद सैनी, रियाज फारूकी, मदन गिल, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष बिमला बेनीवाल, तेजस्विनी शर्मा, सोनू वर्मा, शारदा ढाका, कांग्रेस जिला सचिव प्रदीप सैनी,  निहालसिंह रणवा, सुरेंद्रसिंह शेखावत, सलीम सीगड़ी, जीप सदस्य ताराचंद गुप्ता भोड़की, इकबाल मलवान, भीखा भाई, बलबीर सैनी ने  केंद्र सरकार काे काेसा। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष अंकित जाखड़ के नेतृत्व में प्रधानमंत्री माेदी का पुतला फूंककर प्रदर्शन किया। इस अवसर पर अभिषेक ओला, जिला महासचिव राहुल जाखड़, साैरभ शर्मा और प्रदेश महासचिव कर्मयाेगी कुलहरि थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना