जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक:विभिन्न मुद्दों पर हुई चर्चा, सदस्यों की प्रमुख मांगे ग्रामीण क्षेत्रों में सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता हो

झुंझुनूं2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आपूर्ति संबंधी समस्याओं पर चर्चा की गई। - Dainik Bhaskar
आपूर्ति संबंधी समस्याओं पर चर्चा की गई।

झुंझुनूं जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक आज सूचना केंद्र सभागार में जिला प्रमुख हर्षिनी कुलहरी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में सांसद नरेंद्र खीचड़, जिला कलेक्टर उमरदीन खान, एएसपी वीरेंद्र कुमार मीणा भी मौजूद रहे। बैठक में पिछली बैठक की कार्यवाही विवरण की पालना पर चर्चा की गई। जिला परिषद सीईओ जवाहर चौधरी ने विभिन्न प्रस्तावों के अनुमोदन के पश्चात उनकी क्रियान्वित के बारे में अवगत करवाया। बैठक में पेयजल एवं विद्युत आपूर्ति संबंधी समस्याओं पर चर्चा की गई।

बैठक में जिला परिषद सदस्य गोकुल चंद सोनी ने बताया कि उनके क्षेत्र में 25 अगस्त को पाइप लाइन का ठेका देने के बाद भी कार्य शुरू नही हुआ। उन्होंने ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करने की मांग रखी। जिला परिषद सदस्य बनवारी लाल सैनी ने ग्राम पंचायतों में जलदाय विभाग व ग्राम पंचायतों के बीच विभिन्न परिपत्रों की स्थिति स्पष्ट करने की मांग रखी। खेतड़ी से जिला परिषद सदस्य उमेद सिंह ने निर्माण में बांध टूटने के प्रकरण की जांच के बाद भी दोषियों पर कार्रवाई नही होने और जांच समिति के सदस्य दिलीप सिंह राठौड़ पर हस्ताक्षर करने से इनकार करने का आरोप लगाया। कहा कि क्या सदन बांध को वापस बनाने को तैयार है। वहीं बुहाना प्रधान हरिकिशन यादव ने जलदाय विभाग में सहायक अभियंता समेत रिक्त पदों के भरने की मांग रखी।

सूरजगढ़ प्रधान बलवान पूनिया ने पुलिस थाने में गाड़ी खराब होने की बात रखी और पर्याप्त गाड़ियों की व्यवस्था करवाने की मांग की। वहीं, जिला परिषद सदस्य उमेद सिंह ने शिकायत रखी कि जनप्रतिनिधि साधारण सभा की बैठक में अपनी बात खड़े होकर कहते हैं। वहीं, अधिकारीगण बैठे-बैठे जवाब देते हैं, जो कि उचित नहीं है। जिस पर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जवाहर चौधरी ने अधिकारियों से कहा कि वे भी खड़े होकर जनप्रतिनिधियों के सवालों का जवाब दें। बैठक में जिला कलेक्टर उमरदीन खान ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को पानी की टंकियां पूरी तरह साफ करने के निर्देश दिए, ताकि संक्रामक बीमारियां नहीं पनपे। जिला परिषद सदस्य बीरबल गोदारा ने अपने क्षेत्र में सड़क बनाने के कार्य में तेजी लाने की मांग रखी।

ग्रामीण क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने की मांग

जिप सदस्य रणवीर ने ग्रामीण क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करवाने की पुरजोर मांग रखते हुए कहा कि पुलिसकर्मी ग्रामीण क्षेत्रों में निगरानी प्रभावी नहीं करते। जिसकी वजह से लगातार एटीएम लूट जैसी वारदातें हो रही हैं। इसका जवाब देते हुए एएसपी विरेन्द्र कुमार ने बताया कि सूरजगढ़ क्षेत्र के लिए 20 अतिरिक्त पुलिसकर्मी लगाए जा रहे हैं। लापरवाही बरतने वाले 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं...