पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किसानों का प्रदर्शन:किसानों ने दिया धरना, रबी की बुवाई के लिए 13 घंटे बिजली मांगी, कृषि अध्यादेशों के विरोध में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन

बुहाना/झुंझुन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसान महासभा ने बुहाना में धरने के बाद एसडीएम को सौंपा मांगों का ज्ञापन, झुंझुनूं में

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के राष्ट्रव्यापी आव्हान पर न्यूनतम समर्थन मूल्य अधिकार दिवस के तहत बुधवार को बुहाना तहसील कार्यालय के सामने अखिल भारतीय किसान महासभा की तरफ से धरना देकर किसानों के हितों के लिए सरकार से उचित कदम उठाने की मांग की गई।

किसानों ने उपखंड अधिकारी जीतू कुलहरी को राष्ट्रपति व राज्य के मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया। ज्ञापन में केंद्र सरकार को संसद में पारित किसान विरोधी खेती संबंधी विधेयक निरस्त करवाने के लिए बाध्य करने, केंद्र सरकार सभी कृषि उपजों की स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के अनुसार सी-टू को जोड़ कर न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित करने, केंद्र सरकार सभी कृषि उपजों की घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम खरीद को आपराधिक कृत्य घोषित कर कानून बनाने के लिए केंद्र सरकार को निर्देशित करने की मांग की गई।

धरने पर बैठे वक्ताओं ने हाल ही में कृषि क्षेत्र में चल रही बिजली कटौती पर चर्चा की तथा उपखंड अधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देकर किसानों की विद्युत कटौती अविलंब बंद करने की मांग की। किसानों ने कहा कि रबी की फसल बुवाई के लिए दिन में छह व रात को सात घंटे बिजली दी जाए। बेसहारा पशुओं से फसल बचाने की कार्ययोजना तैयार कर किसानों की मदद की जाए।

घरेलू आवेदकों को सिंगल फेस लाइन से एक सौ मीटर तक घरेलू कनेक्शन देने की अव्यावहारिक नीति को बदल कर सरकार अपने खर्च पर बिजली लाइन से कर विद्युत कनेक्शन दे, सिंगल फेस ट्रांसफार्मर में जगह होने पर पांच सौ मीटर तक घरेलू कनेक्शन दिए जाएं। इस दौरान एक प्रस्ताव पारित कर हाथरस कांड के अपराधियों को कड़ी सजा देने की मांग की गई। किसानों ने कहा है कि कृषि अध्यादेश वापस नहीं लिया गया तो जिलेभर में आंदोलन किया जाएगा।
ऐलान, अगले माह दिल्ली कूच करेंगे जिले के किसान

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति की तरफ से 26-27 नवंबर को किसानों के दिल्ली कूच के आह्वान को सफल बनाने का निर्णय भी इस दौरान लिया गया। धरने को अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय सचिव कामरेड रामचन्द्र कुलहरि, जिला अध्यक्ष कामरेड ओमप्रकाश झारोड़ा, जिला उपाध्यक्ष कामरेड सूरजभान सिंह, प्रखंड अध्यक्ष कामरेड रामकुमार यादव, भाकपा माले के खेतड़ी बुहाना एरिया सचिव कामरेड रामलाल कुमावत, कामरेड होशियार सिंह बलौदा, कामरेड हरी सिंह वेदी, कामरेड प्रेम सिंह नेहरा, कामरेड रामेश्वर मैनाना, पातुराम पालोता, कामरेड सूरत सिंह कुलहरि, जगवीर कुलहरि, सुरेश, उम्मेद सिंह, धनपत सिंह आदि ने संबोधित किया।

खबरें और भी हैं...