पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ओजटू की घटना:हिस्ट्रीशीटर अंकुर डांगी अपने ही घर में फंदे से लटका मिला, बड़े भाई ने जताया हत्या का संदेह

चिड़ावा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चिड़ावा सहित कई थानों में दर्ज थे हत्या का प्रयास, लूट, डकैती, मारपीट के केस
Advertisement
Advertisement

पुलिस थाने का हिस्ट्री शीटर 28 वर्षीय अंकुर डांगी शुक्रवार रात काे ओजटू स्थित घर के कमरे में फंदे से लटका मिला। वह छह-सात माह पहले ही वाहन चोरी के मामले में जेल से जमानत पर छूटकर बाहर आया था। उसके खिलाफ चिड़ावा, पिलानी, सूरजगढ, झुंझुनूं, मुकुंदगढ, जयपुर, अजमेर, लोहारू और बहल सहित कई थानों में हत्या का प्रयास, लूट, डकैती, चोरी, मारपीट और आर्म्स एक्ट सहित अन्य धाराओं के 28 मामले दर्ज थे।

उसके बड़े भाई हरीश ने पुलिस को दी गई रिपोर्ट में हत्या का संदेह जताया है। पुलिस ने माैका मुआयना कर हर पहलू से जांच शुरू कर दी है। शाम काे सीआई ने फिर से माैका मुआयना किया है। पुलिस काे दी रिपोर्ट के मुताबिक शुक्रवार रात करीब ढाई बजे अंकुर की पत्नी प्रिया ने उसके बड़े भाई हरीश को फोन करके बताया कि आपके भाई अंकुर ने फांसी लगा ली है।

जब वह वहां पहुंचा ताे मौके पर कजोड़, कजाेड़ का भाई और एक ड्राईवर हरिसिंह व प्रिया थे। अंकुर अचेत मिला। ये लाेग उसे चिड़ावा के सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। हरीश ने संदेह जताया है कि आठ दिन पहले ओजटू में हुए जानलेवा हमले के मामले के आरोपी उसके भाई का कई दिनों से पीछा कर रहे थे।

रात को कमरे में अकेला ही साेने चला गया था

24 जुलाई को ओजटू की एक युवती ने अपने ही गांव के लोकेश, घरड़ाना निवासी विकास उर्फ मोटू, किढवाना के सतेंद्र उर्फ कालू, पवन उर्फ टिल्लू व उनके साथियों के खिलाफ रिपोर्ट दी थी। जिसमें लिखा गया कि 23 जुलाई की रात उक्त आरोपी गाड़ियों से ओजटू आए और युवती को उसके घर से जबरन उठाकर ले जाने लगे। घरवालों के चिल्लाने पर पड़ाेसी अंकुर डांगी व दो-तीन अन्य लोग वहां आए। अंकुर को देखकर आरोपियों ने युवती को छोड़ दिया, लेकिन अंकुर के सिर पर धारदार हथियार से वार किया।

आठ दिन पहले ही हुआ था जानलेवा हमला

अंकुर डांगी रात काे करीब 11 बजे खाना खाकर कमरे में अकेला ही साेने चला गया था। उसकी पत्नी प्रिया अपने बेटे के साथ घर के चाैक में साे रही थी। देर रात जब आंख खुली ताे उसने जाकर देखा ताे कमरे का दरवाजा बंद था। खिड़की में से झांककर देखा ताे अंकुर फंदे से लटका हुआ था। उसने शाेर मचाया ताे पड़ाेस के लाेग आए। धक्का देकर दरवाजा खाेलकर नीचे उतारा गया। चिड़ावा थानाधिकारी लक्ष्मीनारायण सैनी ने बताया कि घटना स्थल से किसी प्रकार का कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। हर पहलू से जांच कर रहे हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप अपनी रोजमर्रा की व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय सुकून और मौजमस्ती के लिए भी निकालेंगे। मित्रों व रिश्तेदारों के साथ समय व्यतीत होगा। घर की साज-सज्जा संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत हो...

और पढ़ें

Advertisement