पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वार्षिक सम्मेलन:मेघवंशीय समाज चेतना संस्था के वार्षिक सम्मेलन में समाज की 150 प्रतिभाओं व भामाशाहों का किया सम्मान

झुंझुनूं4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
झुंझुनूं. श्रम कार्यालय में श्रमिक सुविधा केंद्र का लोकार्पण करते मंत्री - Dainik Bhaskar
झुंझुनूं. श्रम कार्यालय में श्रमिक सुविधा केंद्र का लोकार्पण करते मंत्री
  • वक्ता बोले-समाज के विकास के लिए बेटियों को शिक्षित करने के साथ युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाना जरूरी

मेघवंशीय समाज चेतना संस्था के संस्थापक बीएल चिरानियां की स्मृति में रविवार को अंबेडकर भवन में 17वां वार्षिक महासम्मेलन व प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि श्रम, कारखाना, बॉयलर्स निरीक्षण विभाग के स्वतंत्र प्रभार व इंदिरा गांधी नहर परियोजना के राज्यमंत्री टीकाराम जूली थे। उन्होंने संस्थान की ओर से शिक्षा के साथ समाज के श्रमिकों के लिए कार्य करने की बात कही।

जैसलमेर के विधायक रुपाराम धणदे ने कहा कि समाज काे विकसित करने के लिए युवाओं काे राेजगार और बेटियाें काे शिक्षित किए जाए। कार्यक्रम का संचालन प्रोफेसर जयलाल सिंह ने किया। जिला संयोजक रामनिवास भूरिया ने बताया कि समारोह में बोर्ड परीक्षा मेंं 92 तथा स्नातक व स्नातकोत्तर में 70 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं के साथ राजकीय सेवा में चयन होने वाले तथा भामाशाहों सहित समाज के 150 प्रतिभाओं काे सम्मानित किया गया। इस दौरान आईपीएस यादराम सिंह फासल, मंडावा की प्रधान शारदा देवठिया, सीडीईओ पितराम सिंह काला, अधिशाषी अभियंता प्रहलाद सिंह देवठिया, प्रिंसिपल माया बजाड़ आदि मौजूद थे।

समारोह में प्रदेशभर से आए समाज के अफसरों का भी किया सम्मान

कार्यक्रम में सेवा निवृत डिप्टी आयुक्त पन्नालाल मेघवाल, चूरू के सीएमएचओ भंवरलाल शर्वा, सुमन चिरानिया, अलवर से सुंदरलाल भटेड़िया, दीपचंद पंवार, डॉ. निरंजन चिरानिया, संस्था को प्रदेश संयोजक रामेश्वरलाल कल्याण, सह संयोजक केआर सिलोलिया, शिवनाथ सिंह, प्रदेश महासचिव मदनलाल दूदवाल, मांगीलाल मंगल, गिरधारीलाल कटारिया, मालीराम वर्मा, सहीराम तुंदवाल, एडवाेकेट मुकेश, रामकरण नारनाेलिया, शिवप्रसाद महरिया, अरुण कुमार निर्मल, राकेश सिरोवा, सुरेंद्र सिंह कड़वासरा, एडवोकेट सीताराम सेवदा, जिला महासचिव कप्तान भाताराम, डॉ. निमिष नेमीवाल, सीताराम बास बुडाना, हरीराम सोगन, इंद्राज सिंह भूरिया, राजेश हरिपुरा आदि मौजूद थे।

श्रम सुविधा केंद्र का लोकापर्ण किया, मंत्री बोले-रोजगार छीन रही है केंद्र सरकार

जिला श्रम विभाग कार्यालय में रविवार को जिला श्रमिक सुविधा केंद्र का लोकापर्ण किया। मुख्य अतिथि श्रम मंत्री टीकाराम जूली थे। उन्होंने कहा कि श्रमिकों को सुविधाएं देना व उनके हितों की रक्षा करना सरकार की प्राथमिकता हैं। श्रमिक कार्ड के निर्माण में आ रही परेशनियों को देखते हुए विभाग ने दो नवाचार किए हैं। जिसमें एक सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है, जिसके जरिए कोई ई-मित्र से गड़बड़ी होती है तो वह तुरंत पकड़ में आ जाएगी।

दूसरा नवाचार मनरेगा के तहत 90 दिन मजदूरी करने वाले श्रमिक का डाटा जिला परिषद से लेकर उनका श्रमिक कार्ड बनाने का कार्य चल रहा है। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न योजनाओं में लाभार्थियों को चेक वितरण किए। उन्होंने जनसुनवाई भी की। जहां श्रमिकों की समस्याओं का समाधान करवाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

इस दौरान खेतड़ी विधायक डॉ. जितेंद्र सिंह ने खेतड़ी माइनिंग के लिए नए मजदूरों की भर्ती करवाने, नए स्पोटर्स पर ड्रिलिंग करवाने की मांग रखी। श्रम आयुक्त धर्मपाल सिंह, एडीएम जगदीश प्रसाद गौड़, कर्नल देवानंद, गोकुलचंद सैनी, जिला श्रम अधिकारी अरुणा शर्मा आदि मौजूद थे।

केंद्र सरकार पर निशाना साधा : केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए जूली ने कहा िक कुछ समय पहले नरेन्द्र मोदी ने घाेषणा की थी कि हर वर्ष दो करोड़ युवाओं को रोजगार देंगे, लेकिन उन्होंने रोजगार देने की जगह युवाओं का रोजगार छिना है। भारत आजादी के बाद पहली बार बेरोजगारी की दर उच्चत्तर हैं। मोदी की नीतियों से जीडीपी गिरती जा रही है। लोक उद्याेग के संस्थाएं बंद होने के साथ बेरोजगार की दर भी बढ़ती जा रही है। उन्हें नीतियों में सुधार करने के साथ युवाओं के लिए रोजगार की व्यवस्था करनी चाहिए।

श्रम मंत्री जूली ने कहा कि केंद्र सरकार आरक्षण के साथ संविधानिक प्रक्रिया को खत्म करती जा रही है। सभी संवैधानिक संस्थाएं सीबीआई, ईडी, कोर्ट व अन्य को तोड़ने के साथ कमजोर किया जा रहा है। जूली ने कहा कि दलितों की सुनवाई के लिए जल्द ही एससी आयोग के साथ अन्य आयोगों के चेयरमैन की नियुक्ति कर दी जाएगी। जूली ने कहा कि श्रम विभाग में लंबित मामलों का निस्तारण करने के प्रयास किए जा रहे हैं। भाजपा सरकार के दौरान बहुत सारे आवेदन लिए गए थे, लेकिन निस्तारण नहीं किया गया। दो साल पहले हुए पंजीयन का निस्तारण किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...