• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jhunjhunu
  • Liquor Contractors From Across The District Submitted Memorandum To The District Excise Officer Regarding Various Demands, Ultimatum For 3 Days

शराब ठेकेदारों का 3 घण्टे विरोध प्रदर्शन:जिलेभर के शराब ठेकेदारों ने विभिन्न मांगों को लेकर जिला आबकारी अधिकारी को सौंपा ज्ञापन,3 दिन दिन का दिया अल्टीमेटम

झुंझुनूंएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

झुंझुनूं जिला आबकारी कार्यालय के बाहर आज शराब ठेकेदारों ने अपनी मांगों को लेकर 3 घण्टे तक विरोध प्रदर्शन कर जिला आबकारी अधिकारी को ज्ञापन दिया।प्रदर्शन में जिले भर के शराब ठेकेदार शामिल हुए।ज्ञापन देने वाले प्रतिनिधि मंडल में शामिल विजेन्द्र मील ने ​कहा कि वर्ष 2005 के बाद सरकार ने जिला स्तरीय ठेका समुहों को खत्म कर बेरोजगारों को काम देने के लिए ग्राम पंचायत को ईकाई मानकर बेरोजगारों को लॉटरी के माध्यम से दुकानें आवंटित की गई थी और उस पर कमीशन भी 20% मिलता था।लेकिन वर्तमान सरकार की नई नीति आने के बाद गारंटी बढ़ती गई और कमीशन घटता गया।शरराब ठेकेदारों का कहना है कि पहले कम्पोजिट फीस 25 हजार थी आज वह फीस 15 लाख तक पहुंच गई है।ऊपर से अब पेनल्टी 20 गुना तक बढ़ा दी गई है।वहीं कोरोना के कारण भयंकर आर्थिक मंदी की वजह से खरीददारी 10% से भी कम रह गई है। बेरोजगारों को काम देने वाली योजना आज बेरोजगारों की जान लेने वाली योजना बन गई है।आज शराब ठेकेदार बर्बाद होने के कगार पर पहुंच गए हैं । शराब ठेकेदारों ने मांग की है कि ऐसी स्थिति में राज्य सरकार शराब गारंटी की बाध्यता खत्म करें और कम्पोजिट फीस वापस लौटाये।जिला आबकारी अधिकारी को ज्ञापन में शराब ठेकेदारों ने अल्टीमेटम देते हुए कहा कि 3 दिन में मांगों को नहीं माना गया तो गुरुवार से सभी शराब ठेकेदार अनिश्चित काल के लिये गोदामों से माल उठाना बन्द करेंगे।ज्ञापन देने वाले प्रतिनिधि मंडल में विजेन्द्र मील , जयसिंह बराला , बाबुलाल शर्मा , उमेश डुडी , अनिल चाहर , हरिसिंह महला , सोमवीर पुनिया , वीरेन्द्र सिंह कालीपहाड़ी , सुनील मंड्रेला , बीजू भाटीवाङ , विकास सूरजगढ़ , मनोज पिलानी , अजय कप्तान , जुगलाल सहित जिले भर के शराब ठेकेदारों ने भाग लिया।