• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jhunjhunu
  • Memorandum Given To The Collector In The Name Of Chief Minister And Sainik Welfare Minister Regarding The Encroachment On The Way To The Hospital By The Land Mafia

पूर्व सैनिकों ने झुंझुनू कलेक्ट्रेट के बाहर किया प्रदर्शन:भू माफियाओं द्वारा चिकित्सालय के रास्ते पर अतिक्रमण को लेकर मुख्यमंत्री और सैनिक कल्याण मंत्री के नाम कलेक्टर को दिया ज्ञापन

झुंझुनूंएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ज्ञापन देने पहुंचा। - Dainik Bhaskar
ज्ञापन देने पहुंचा।

पूर्व सैनिकों के इलाज के लिये बनाये ईसीएचएस चिकित्सालय के रास्ते पर हुए अतिक्रमण को लेकर आज कई पूर्व सैनिकों ने झुंझुनू कलेक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री और सैनिक कल्याण मंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। पूर्व सैनिकों का कहना है कि जिले के पूर्व सैनिकों के लिए बने मिनी चिकित्सालय के रास्ते पर भू माफियाओं द्वारा कब्जा किया जा रहा है। जिसे पूर्व सैनिकों को आने जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

सैनिकों और पूर्व सैनिकों के लिये झुंझुनू में एक पोलो क्लीनिक है जिसका आम रास्ता भू माफियाओं द्वारा रोका गया है।पूर्व सैनिकों का कहना है कि यहां दिन के 500 के आसपास सैनिक इलाज के लिए आते हैं वहां कई सैनिक 90 से 95 वर्ष के हैं उन्हें आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।पूर्व सैनिकों का कहना है कि जिला प्रशासन की अनदेखी के कारण भू माफियाओं ने रास्ते पर कब्जा किया जिससे सड़क की चौड़ाई काफी कम हो गई है।पूर्व सैनिकों की मांग है कि रास्ते को 40 से 60 फीट चौड़ा करवाकर बीच में डिवाइडर बनाए जाए ताकि रोगियों की एंबुलेंस गाड़ियां और पैदल यात्री भी सुरक्षित पहुंच सके।

सेना के वीरों को हो रही परेशानी

झुंझुनू जिले में एक परमवीर चक्र, दो परम विशिष्ट सेवा चक्र,3 अति विशिष्ट सेवा पदक,4 कीर्ति चक्र,23 वीर चक्र,10 शौर्य चक्र,23 सेना मेडल,2 नौसेना मेडल,14 मैन्सन इन डिस्पेजज युद्ध के दौरान बहादुरी और शौर्य द्वारा दुश्मन से लोहा लेते हुए प्राप्त किए गए वर्तमान में लगभग 65 हजार पूर्व सैनिक है और इतने ही वर्तमान में सेवारत सैनिक भी हैं जिन्हे इलाज के दौरान काफी परेशानियों का सामना करना पड रहा है।