पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संपूर्ण लॉकडाउन:अब मनरेगा कार्य नहीं होंगे; रोडवेज बसें भी बंद, शादियों में न मेल कर सकेंगे ना बारात ले जा सकेंगे

झुंझुनूंएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
झुंझुनूं, एक नंबर रोड पर रोडवेज डिपो के बाहर दुकानों पर खरीदारी के लिए आए लोगों की भीड़। - Dainik Bhaskar
झुंझुनूं, एक नंबर रोड पर रोडवेज डिपो के बाहर दुकानों पर खरीदारी के लिए आए लोगों की भीड़।
  • आखिर समझते क्यों नहीं हम- संपूर्ण लॉकडाउन में भी जरुरी वस्तुएं तय समय तक मिलेंगी, सब्जी व किराना दुकानें 11 बजे तक खुलेंगी

कोरोना से निपटने के लिए प्रदेश में सरकार ने संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है। यह दस मई से लागू होगा, लेकिन गुरुवार रात को इसकी घोषणा होने के बाद शुक्रवार सवेरे बाजारों में लोगों की भीड़ इस तरह उमड़ पड़ी जैसे अब बाजारों में कुछ नहीं मिलेगा। लोगों की लापरवाही भी सामने आई।

कई दुकानों पर सवेरे से ही कतार लग गई। बैंकों के एटीएम पर भी कतारें लगी रही। हालांकि लोगों को इससे परेशान होने की आवश्यकता ही नहीं है, क्योंकि पहली बात तो यह कि लॉकडाउन हमारी सेहत के लिए ही लागू हो रहा है। दूसरा इस दौरान भी सवेरे 11 बजे तक सब्जी व किराना की दुकानें खुली रह सकेंगी। इसलिए घर में जरुरी वस्तुओं की कमी जैसी स्थिति बनेगी ही नहीं।

बहरहार शनिवार व रविवार को वीकेंड कर्फ्यू रहेगा और 10 मई को सुबह 5 बजे से 24 मई को सुबह 5 बजे तक सख्त लॉकडाउन लगेगा। इस दौरान विवाह समारोह घर में या कोर्ट मैरिज के रुप में करने की अनुमति रहेगी। जिसमें केवल 11 जने शामिल हो सकेंगे।

मनरेगा के कार्य स्थगित
दस मई से लगने वाले लॉकडाउन के दौरान मनरेगा के कार्य स्थगित कर दिए गए हैं। इस संबंध में ग्रामीण विकास विभाग भी विस्तृत दिशा निर्देश जारी करेगा। इधर, श्रमिकों के पलायन को रोकने के लिए उद्योगों व निर्माण से संबंधित सभी इकाइयों में कार्य करने की अनुमति होगी। श्रमिकों को आवागमन में परेशानी ना हो, इसके लिए पहचान पत्र जारी किया जाएगा। श्रमिकों के लिए विशेष बस के संचालन की अनुमति होगी।

बंद रहेंगे सार्वजनिक परिवहन
मेडिकल सेवाओं के अतिरिक्त सभी प्रकार के निजी व सरकारी परिवहन के साधन बंद रहेंगे। लॉकडाउन के दौरान सभी सार्वजनिक परिवहन जैसे बस, टैंपों, जीप पूरी तरह बंद रहेंगे। हालांकि अंतरराज्यीय व राज्य के भीतर माल का परिवहन करने वाले भारी वाहनों को आवागमन, माल की लोडिंग व अनलोडिंग के साथ इस कार्य में लगे व्यक्ति को अनुमति रहेगी।

मेडिकल, इमरजेंसी व अनुमत श्रेणियों को छोड़कर एक जिले से दूसरे जिले, एक शहर से दूसरे शहर, एक गांव से दूसरे गांव में आवागमन पर पूर्णत प्रतिबंध रहेगा।

शादी समारोह- ना बारात, ना प्रतिभोज
शादी के संबंध में किसी भी समारोह, डीजे, बारात, निकासी, प्रीतिभोज पर प्रतिबंध रहेगा। विवाह में बैंड- बाजा, हलवाई, टेंट या इस प्रकार के अन्य किसी भी व्यक्ति के सम्मिलित होने के साथ शादी के लिए टेंट हाउस, हलवाई से संबंधित सामान की होम डिलीवरी भी नहीं की जा सकेगी। मैरिज गार्डन, मैरिट हॉल व होटल परिसर भी बंद रहेंगे।

विवाह निरस्त करने वालों को विवाह स्थल, मालिक, टैंट व्यवसायी, कैटरिंग संचालकों व बैंड-बाजा वादकों आदि को बुकिंग राशि लौटानी होगी। लॉकडाउन के दौरान सामूहिक भोज भी नहीं होंगे।

बंद रहेंगे धार्मिक स्थल
लॉकडाउन के दौरान जिले के सभी धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। सरकार ने आम लोगों से अपील की है कि वे मंदिर, मस्जिद व अन्य धार्मिक स्थल पर ना जाकर घर पर रहकर पूजा, इबादत करें। यदि कहीं कोई धार्मिक स्थल खुला मिला तो कार्रवाई की जाएगी।

देनी होगी निगेटिव की रिपोर्ट : राज्य के बाहर से आने वाले व्यक्तियों को राज्य में प्रवेश करने से पहले 72 घंटे पहले की कोरोना निगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट देनी अनिवार्य होगी। यदि कोई व्यक्ति नेगेटिव रिपोर्ट नहीं दिखाएगा तो उसे 15 दिन के लिए क्वारेंटाइन किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...