पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिस की ऐसी मुस्तैदी:मजदूर के बेटे की तलाश कर रहे 150 जवान, 100 ग्रामीण; ड्रोन भी नहीं ढूंढ़ पाया, अब 25 किमी दायरे में होगी घर-घर तलाशी

मंड्रेला/ झुंझुनूंएक महीने पहले
मंड्रेला में ड्रोन व सारे उपाय फेल हो जाने के बाद बच्चे की तलाश में पुलिस अब घर-घर तलाशी ले रही है।
  • तीन दिन पहले लापता हुआ था मासूम, ढूंढ़ने के लिए पुलिस ने चलाया सर्च अभियान
  • ऐसा सर्च ऑपरेशन: दिनभर जुटी रही चार थानों की पुलिस, डॉग स्क्वाड भी लगाया

झुंझुनूं के मंड्रेला में ईंट भट्‌टा मजदूर के बेटे के लापता होने के बाद तीसरे दिन भी सर्च ऑपरेशन जारी है। इस ऑपरेशन में ड्रोन तक से खोज की कोशिश नाकाम होने के बाद अब तीसरे दिन 25 किलोमीटर के दायरे के इलाकों को छाना जा रहा है। घर-घर तलाशी शुरू कर दी गई है। छोटे से गांव में लो-प्रोफाइल मामले में पुलिस की इस तरह की मुस्तैदी और गंभीरता आमतौर पर कम ही देखी जाती है।

मंड्रेला के समीप नंदरामपुरा ईंट भट्टे पर काम करने वाले मजदूर श्रवण का 4 साल का बेटा काली 19 जनवरी को ईंट-भट्‌टे के पास झुग्गी बस्ती में गायब हो गया था। पहले दिन से तीसरे दिन तक सर्च ऑपरेशन के हर तरीके पर पुलिस एक्शन में दिखी। पुलिस के 150 से ज्यादा जवान, डॉग स्क्वॉड और ड्रोन कैमरे से निगरानी का काम पुलिस ने दो दिन में किया है।

बच्चे की गुमशुदगी का पता चलते ही एसपी मनीष त्रिपाठी के निर्देश पर पिलानी डीएसपी सुरेश शर्मा के नेतृत्व में 4 थानों के प्रभारियों की टीम बनाई गई। पुलिस ने मदद के लिए करीब 100 से अधिक ग्रामीणों को भी साथ लिया। इसके अलावा कई थानों की पुलिस और एक डीएसपी को इस टीम का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी दी।

बच्चे की सर्च में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को लगाया गया है।
बच्चे की सर्च में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को लगाया गया है।

3 दिन पहले एक महिला के पीछे जाता देखा गया था
जानकारी के अनुसार, मजदूर श्रवण और उसकी पत्नी पूजा सूरतगढ़ की अनाज मंडी में काम करते थे। वहां काम छूट गया तो वे 17 जनवरी को ही मंड्रेला आए थे और ईंट-भट्‌टे पर काम शुरू किया। दो दिन बाद ही उनका बेटा काली गायब हो गया।

19 जनवरी को दोपहर ढाई बजे बच्चा एक महिला के पीछे-पीछे गया था। उस महिला ने बच्चे को डांटा कि वह वापस घर पर चला जाए। फिर वह महिला एक बाइक वाले के साथ चली गई। इसके बाद से बच्चे का कुछ पता नहीं है।

11 साल पहले भी मंड्रेला से गायब हो चुके 2 बच्चे
मंड्रेला से जून 2009 में दो बच्चे गौरव निर्वाण (5) पुत्र सुधीर निर्वाण तथा रोहित भार्गव (6) पुत्र महेंद्र भार्गव गायब हो चुके हैं। उनका आज तक कोई सुराग नहीं मिला। इनकी तलाश में एसओजी भी लगाई गई थी। चिड़ावा डीएसपी सुरेश शर्मा उस समय पिलानी में सीआई थे। इसलिए इस बार उन्होंने इस मामले को गंभीरता से लिया और इन दोनों बच्चों के गायब होने की जानकारी एसपी मनीष त्रिपाठी को दी। जिस पर इस बार बच्चे की तलाश के लिए यह सघन अभियान चलाया जा रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

और पढ़ें