एसएफआई ने मुख्यमंत्री का पुतला फूंका:रीट प्रदर्शनकारियाें पर बल प्रयाेग के विराेध में प्रदर्शन किया

झुंझुनूं20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन करते एसएफआई कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
प्रदर्शन करते एसएफआई कार्यकर्ता।

जयपुर में रीट प्रदर्शनकारियों पर पुलिस कार्रवाई के विराेध में शुक्रवार काे छात्र संगठन एसएफआई ने प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री का पुतला फुंका। एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने पहले आरआर मोरारका महाविद्यालय के मुख्य द्वार पर पुलिस दमन के खिलाफ प्रदर्शन किया। एसएफआई के जिला महासचिव सचिन चोपड़ा ने बताया कि रीट अभ्यर्थी एसएफआई के बैनर तले पिछले 2 महीनो से रीट के पद 31 हजार से बढ़ाकर 50 हजार करने की मांग को लेकर शहीद स्मारक जयपुर पर धरना दे रहे थे। शांतिपूर्ण धरने पर राज्य की सरकार ने प्रदर्शनकारियों पर पुलिस द्वारा दमन किया गया।

एसएफआई के जिलाध्यक्ष पंकज गुर्जर ने बताया कि गहलोत सरकार बेरोजगार युवाओं की मांगे मानने की बजाय उनके लाठीचार्ज कर रही है। छात्रसंघ अध्यक्ष अनीश धायल ने कहा कि जल्द ही रीट अभ्यर्थियों की मांग को मानते हुए 50 हजार पद किए जाए और रीट प्रदर्शनकारियों पर दर्ज मुकदमें वापस लिए जाए।

मांग नहीं मानने पर छात्र संगठन एसएफआई उग्र आंदोलन करेगा। प्रदर्शन में राज्य कमेटी सदस्य चुकी नायक, पूजा नायक, कॉलेज कमेटी अध्यक्ष नवीन जांगिड़, अंकित धोनी,अभिषेक बड़जात्या, प्रियंका सहारण, पार्थ, साहिल, राविन, सचिन महरिया, विनय चौधरी, बुलकेश महला, अनिमेष दुल्लड़, एसएफआई के तहसील महासचिव राजेश आलड़िया माैजूद रहें।

उदयपुरवाटी | छात्र संगठन एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को सीएम के नाम एसडीओ को ज्ञापन देकर रीट में पद बढ़ाने की मांग की है। जानकारी के अनुसार एसएफआई के तहसील अध्यक्ष अंकित सैनी के नेतृत्व में ज्ञापन देकर रीट के पद 31 हजार से बढ़ाकर 50 हजार करवाने की मांग की है। शहीद स्मारक जयपुर पर शांतिपूर्वक प्रदर्शन करने वाले रीट अभ्यार्थियों व एसएफआई कार्यकर्ताओं के पुलिस कार्रवाई पर नाराजगी प्रकट की है। ज्ञापन देने वालों में अमन मीणा, अंकित वर्मा, प्रधुम्न दाधीच, कंचन शर्मा, विकास सैनी, कृष्ण सैनी, आकांक्षा, सचिन सैनी आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...