आज हम सबकी है बड़ी परीक्षा:रीट का परीक्षा परिणाम बाद में आएगा, इंतजामों में हमें आज ही पास होना है

झुंझुनूं4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
परीक्षा को लेकर शनिवार को अभ्यर्थी रवाना हो गए। बसों में भीड़ के बीच भी तैयारी करते रहे। - Dainik Bhaskar
परीक्षा को लेकर शनिवार को अभ्यर्थी रवाना हो गए। बसों में भीड़ के बीच भी तैयारी करते रहे।

रीट परीक्षा के लिए बाहरी जिलों के अभ्यर्थी यहां पहुंचना शुरू हो गए हैं। इसके साथ ही जिले के अभ्यर्थी भी शनिवार को यहां से रवाना हुए। जिसके कारण पूरे दिन बस स्टैंड पर भीड़ रही। देर रात तक अधिकांश अभ्यर्थी अपने अपने सेंटर वाले कस्बों में पहुंच चुके थे। रविवार को पहली पारी की परीक्षा सवेरे 10 बजे से शुरू होगी, लेकिन इसके लिए अभ्यर्थियों को एक घंटे पहले ही सेंटर पर पहुंचना होगा। इसके बाद दूसरी पारी की परीक्षा दोपहर 2.30 बजे से होगी। दोनों ही पारियों में परीक्षा के तय समय से आधा घंटा पहले सेंटर में प्रवेश बंद कर दिया जाएगा।

जिले में 60,442 अभ्यर्थी 177 केंद्रों पर परीक्षा देंगे। इनमें से करीब 44 हजार अभ्यर्थी दोनों पारियों की परीक्षा में शामिल होंगे। ऐसे में बस स्टैंड, रेलवे स्टैंड आदि पर शाम पांच बजे से लौटने वाले अभ्यर्थियों की भीड़ रहेगी। इस बीच प्रशासन ने शनिवार को एक बार फिर सभी तैयारियों का जायजा लिया। कलेक्टर यूडी खान और एसपी मनीष त्रिपाठी ने सभी प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि किसी भी स्तर पर लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि नकल के मामलों में सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही परीक्षा के बाद वापस लौटने वाले अभ्यर्थियों के लिए भी पूरी तैयारी की गई है। इनके बसों के इंतजाम के लिए जगह तय की गई हैं।

  • 60,442 -अभ्यर्थी परीक्षा देंगे जिले में
  • 177 - केंद्र बनाए गए हैं 20 कस्बों में
  • 46 -उपसमंवयक लगाए गए हैं

लौटते समय चूरू, श्रीगंगानगर के लिए बसें सगीरा सर्किल और जयपुर के लिए हवाई पट्‌टी सर्किल से मिलेंगी

पहली पारी का समय सवेरे 10 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक है। इसलिए सवेरे 7 बजे से 9 बजे तक सड़कों पर हैवी ट्रेफिक रहेगा। इसके बाद दूसरी पारी दोपहर ढाई बजे से शाम 5.30 बजे तक है। 44 हजार 85 हजार अभ्यर्थी इन दोनों परीक्षाओं में शामिल होंगे। ऐसे में शाम पांच बजे से रात आठ बजे के ये सभी अभ्यर्थी वापस लौटेंगे। जिसके कारण बसों में भारी भीड़ रहेगी।

  • जिले में 12 हजार 241 युवा दूसरे जिलों से आ रहे हैं। इनमें सबसे ज्यादा 6315 युवा चूरू जिले के हैं। चूरू, हनुमानगढ़, श्रीगंगानगर से आने वाले अभ्यर्थियाें को वापसी के लिए बसें सगीरा सर्किल के पास केके काॅलाेनी से मिलेंगी।
  • काेटा, अजमेर, पाली बूंदी जालाैर, भीलवाड़ा, अजमेर जैसलमेर, टाेंक दाैसा समेत जयपुर व सीकर के लिए बस वापसी में हवाई पट्टी सर्किल से मिलेंगी।
  • बीकानेर के लिए बसें कृषि उपज मंडी में मिलेंगी।
  • शहर में सवेरे से ही ऑटो चलेंगे। इसी तरह ग्रामीण रूट की बसाें का संचालन यथावत रहेगा। ग्रामीण रूट के 108 बस संचालकाें काे पाबंद किया है कि वे परीक्षार्थियाें काे एडमिट कार्ड के आधार पर निशुल्क परीक्षा सेंटर तक पहुंचाएं।

ऐसे बनेगा ग्रीन कॉरिडोर- ईमानदारी, समझदारी और जिम्मेदारी निभाएं

  • अभ्यर्थी- नकल नहीं करें, अफवाहों से बचें। वाहन धीरे चलाएं। बसों की छतों पर सफर ना करें। दूसरों की भी मदद करें।
  • प्रशासन- पूरे दिन अलर्ट रहें। किसी को आवागमन, भोजन की असुविधा ना हो। सभी सेंटर पर समय से पहुंच जाएं।
  • पुलिस- नकल गिरोह पर नजर रखें। अफरा तफरी ना मचे। बसों की छतों पर सफर करने से राेंके। अच्छा व्यवहार करें।
  • आमजन- बेवजह यात्रा ना करें। व्यापारी बाजार बंद रखें। अभ्यर्थियों को सेंटर तक पहुंचाने में मदद करें। ताकि किसी को परेशानी नहीं हो।
  • भामाशाह- आपने भोजन, पानी, आवास के इंतजाम किए हैं। वहां व्यवस्थाएं बनी रहें। अच्छे इंतजाम करें। खाने की शुद्धता का ध्यान जरूर रखें।

एग्जाम इंफो

  • घर से निकलने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आपने प्रवेश पत्र ले लिया है और उस पर अपनी नवीनतम रंगीन फोटो चिपका ली है।
  • आपके पास अपने आधार कार्ड या अन्य फोटो युक्त पहचान पत्र की ओरिजनल कॉपी होनी चाहिए।
  • इस बार रोल नंबर करोड़ों में हैं। इसलिए घर पर बार बार इन्हें शब्दों व अंकों में लिखकर चैक कर लें। खासकर अंग्रेजी भाषा में जरुर लिखकर अभ्यास कर लें।
  • पूरी आस्तीन की शर्ट ना पहनकर जाएं। मोबाइल, घड़ी, अंगूठी, मंगलसूत्र, चेन आदि ना लेकर जाएं।

हैल्थ अलर्ट

  • कोरोना से बचाव भी आपकी ही जिम्मेदारी है। इसलिए बसों में मास्क लगाकर रखें। सेनेटाइजर का उपयोग करें।
  • आपको केंद्र तक खुद का मास्क लगाकर जाना है। कक्ष में जाने से पहले आपको वहां दूसरा मास्क दिया जाएगा।
  • खुद के वाहन से यात्रा कर रहे हैं तो रफ्तार से वाहन ना चलाएं। बस चालकों को भी टोकें कि वाहन की स्पीड कम रखें।
खबरें और भी हैं...