सम्मान समारोह:विद्यालय में शिक्षकों ने किया कंप्यूटर भेंट,भामाशाहों काे किया सम्मानित

झुंझुनूं9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राउप्रावि लक्ष्मणपुरा मेहलू में वार्षिकोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एसीबीईईओ खेराजराम रहे। इस दौरान विद्यालय विकास के लिए भामाशाहों ने कई घोषणाएं की। प्रधानाध्यापक शेरुलाल टेलर ने बताया कि इस दौरान जिला परिषद सदस्य नरपतराज मूंढ ने एक लाख रुपए की घोषणा की।

इसी तरह मेहलू सरपंच ने विद्यालय में टीन शैड व मंच निर्माण, पंचायत समिति सदस्य रायचंद थोरी ने शौचालय निर्माण की घोषणा की। इस दौरान पीईईओ मेहलू दुर्गाराम ने भामाशाहों को स्मृति चिन्ह प्रदान कर बहुमान किया। इस दौरान प्रधानाध्यापक शेरुलाल टेलर सहित स्टाफ मालाराम, बनवीर, अचलसिंह , हीना वर्मा, शंकरलाल ने मिलकर पचास हजार रुपए की राशि एकत्रित की और विद्यालय के लिए लेपटॉप व प्रिंटर खरीदा। इस दौरान पिछले साल के भामाशाह चूनाराम, पूनमाराम, एसएमसी अध्यक्ष अणदाराम, चेतनराम पलीवाल व डालूराम बेनीवाल, गिरधारी बेनीवाल का साफा बंधवाकर व स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया।

शिव . राउमावि कोटड़ा में वार्षिकोत्सव समारोह तथा बारहवीं के विद्यार्थियों का विदाई समारोह का आयोजन हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता गडरारोड प्रधान सलमान खान ने की। मुख्य अतिथि पूर्व प्रधान गंगा सिंह, विशिष्ट अतिथि कोटड़ा पूर्व राणा नरेन्द्र प्रताप सिंह, एबीईईओ लक्ष्मण सिंह राजपुरोहित, गिरधर सिंह कोटड़ा, भगत सिंह राजपुरोहित, मनोहर सिंह हाथी सिंह का गांव, हिन्दू सिंह कोटड़ा रहे। समारोह में पूर्व के भामाशाह को सम्मानित किया गया तथा नए भामाशाह का स्वागत किया गया। पायला कला |

राउप्रावि गोदारों का गाला खुडाला में वार्षिकोत्सव एवं विद्यार्थी सम्मान समारोह मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी मूलाराम चौधरी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधान चुन्नीलाल माचरा ने की। सीडीईओ मूलाराम चौधरी ने समारोह को सं‍बोधित करते हुए विद्यालय को सबसे बड़ा परिवार होना बताया तथा परिवार के मुखिया के रूप में शिक्षक और अभिभावकों को मिलकर कार्य करने का आह्वान किया।
सारला . राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय हुसैन का तला में गुरुवार को वार्षिक उत्सव समारोह संपन्न हुआ। इस दौरान मुख्य अतिथि समाजसेवी डूंगराराम सेंवर ने बताया शिक्षा के साथ व्यावहारिक ज्ञान जरूरी हैं। विद्यालय मे भौतिक सुविधाएं कमी है। इसके समाधान का प्रयास किया जाएगा। हरजीराम ने कहा कि अभिभावक समय-समय पर विद्यालय आकर अपने बच्चों की पढ़ाई के बारे मे जानकारी लें।

खबरें और भी हैं...