लापरवाही / संक्रमितों ने बताया, डॉक्टर बोले-आज छुट्‌टी है कल आना

X

  • बबाई में तीन सगे भाई व एक अन्य संक्रमित, मुंबई से आए उसी दिन गए थे अस्पताल

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 07:27 AM IST

बबाई. बबाई में काेराेना पाॅजिटिव मिले चारों व्यक्ति जिस दिन मुंबई से गांव पहुंचे थे, उसी दिन सुबह बबाई के अस्पताल गए थे, लेकिन डॉक्टर ने उन्हें ये कहकर घर भेज दिया था कि आज रविवार है, कल आना। उसके बाद ये वापस घर चले गए और इनके संपर्क में आने से परिवार व मोहल्ले के कई लोगों में संक्रमण फैलने का डर है। 
जानकारी के अनुसार तीन भाइयों सहित चार जने 17 मई को अल सुबह बबाई पहुंचे थे। गांव के बीएलओ को पता चला तो उन्होंने इन्हें अस्पताल जाकर जांच करवाने को कहा। इसके बाद ये चाराें करीब साढ़े आठ बजे बबाई अस्पताल में गए। वहां ड्यूटी पर तैनात डॉ. मनोहर बिजारणिया से इन्होंने मुंबई से लौटकर आने की बात कही। एक संक्रमित ने बताया कि पहले तो डॉ. बिजारणिया ने उन्हें बाहर खड़ा होने के लिए कहा। करीब एक घंटे तक ये बाहर खडे रहे। इस दौरान वे अन्य मरीज देखते रहे। बाद में उन्हें अंदर बुलाया। फिर से पूछताछ की और कहा कि आज तो रविवार है, कल सुबह आना। दूसरे दिन ये गए तो इन्हें संदिग्ध मानकर पचेरी स्थित क्वारेंटाइन में भेज दिया। जहां सैंपल लिया गया, जिसमें चारों पॉजिटिव पाए गए हैं।
एक ही वार्ड के हैं, तीन सगे भाई और एक पड़ोसी युवक
चारों संक्रमित बबाई के एक ही वार्ड एक के रहने वाले है। इनमें तीन सगे भाई काेराेना संक्रमित मिले है़ं। ये 15 मई काे घाटकाेपर से चले थे। इनके साथ 12 श्रमिक और भी थे। इनमें बबाई के चार, पपुरना के दो, गुहाला के दो, जाखल का एक, नीमकाथाना के दो और बहराेड का एक श्रमिक लाैटा था। ये 17 मई को सुबह गांव पहुंचे थे। इधर, इस संबंध में बबाई अस्पताल के डॉ. मनोहर बिजारणिया का कहना है कि उनके पास पर्ची लेकर तो कोई आया नहीं। पर्ची लेकर आते तो वे इन्हें आइसोलेशन में भेज देते। सोशल डिस्टेंस के लिए बाहर खड़ा करते हैं। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना