अनलॉक 2.0 / विद्यार्थियों के लिए अब 31 जुलाई तक नहीं बजेगी स्कूल और कॉलेज की घंटी, इसके बाद ही तय होगा स्कूल खुलेंगे या नहीं

X

  • गाइड लाइन में शिक्षण संस्थान 31 जुलाई तक बंद रखने के निर्देश, शिक्षकों को आना होगा स्कूल

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

झुंझुनूं. काेराेना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों के बीच निजी और सरकारी विद्यालयाें में नया शैक्षणिक सत्र 31 जुलाई तक शुरू नहीं हाे पाएगा। इससे काेराेना की वजह से बच्चों को स्कूल भेजने से बचना चाह रहे अभिभावकाें काे बड़ी राहत मिली है। केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा अनलाॅक 2.0 के लिए जारी दिशा-निर्देशाें में स्कूल, काॅलेज के साथ काेचिंग अभी फिलहाल बंद रखने का निर्णय लिया गया है। अनलाॅक 2.0 की गाइड लाइन 1 जुलाई से प्रभावी होंगी। नए गाइड लाइन में निजी और सरकारी स्कूलाें काे अभी शुरू नहीं करने काे कहा गया है। इसके अलावा काेचिंग संस्थान, जिम भी अभी बंद ही रहेंगे।  जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक अमरसिंह पचार ने बताया कि अनलाॅक 2.0 की गाइड लाइन में स्कूलाें काे 31 जुलाई तक बंद रखने काे कहा गया है। इसलिए 1 जुलाई से प्रारंभ हाेना वाला शैक्षणिक सत्र 31 जुलाई तक स्थगित कर दिया गया है।

राज्य सरकार ने 31 तक बंद रखने की अनुशंसा की थी
अनलाॅक 2.0 में 15 जुलाई से केंद्र और राज्य सरकार की प्रशिक्षण इंस्टीट्यूट शुरू करने की याेजना है। लेकिन इसके लिए राज्य सरकार की और से एसओपी जारी हाेगी। अनलाॅक 2.0 की गाइड लाइन के बाद स्कूल और कॉलेज के विद्यार्थियों को संस्थान खुलने का 1 अगस्त तक इंतजार करना पड़ेगा। शिक्षा विभाग ने भी काेराेना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव काे देखते हुए 31 जुलाई तक स्कूल और कॉलेज बंद रखने की राज्य सरकार से अनुशंसा की थी।

अंतिम पेपर के साथ 12वीं और 10वीं की बाेर्ड परीक्षाएं समाप्त, अब परिणाम का इंतजार
झुंझुनूं | माध्यमिक शिक्षा बाेर्ड की 12वीं और 10वीं की बाेर्ड परीक्षाओं का मंगलवार काे अंतिम पेपर के साथ समापन हाे गया। बारहवीं का मनाेविज्ञान और 10वीं का गणित का पेपर हुआ। बाेर्ड परीक्षाएं समाप्त हाेने के बाद जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग ने राहत की सांस ली है। काेराेना संक्रमण काे देखते हुए इन परीक्षाओं के आयाेजन काे लेकर सवाल उठ रहे थे। लेकिन परीक्षाओं की समाप्ति के बाद अब परीक्षार्थी बाेर्ड के परिणाम का इंतजार कर रहे हैं। दूसरी और जिले के दाे संग्रहण केन्द्राें पर बाेर्ड से जांच के लिए आने वाली परीक्षा की कापियाें का वितरण लगातार जारी है। परीक्षक इन कापियाें की जांच कर उनकाे वापस भी जमा कराने लगे हैं। जिले में 10वीं की दाे परीक्षाअाें की कापियाें का इंतजार है। कापियाें की जांच का काम सरकारी स्कूलाें के शिक्षक ही कर रहे हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना