पेरेंट्स के डर से 10वीं के स्टूडेंट ने किया सुसाइड:कई दिनों से स्कूल बंक कर रहा था, घर पर पता चला तो डर गया

झुुंझुनूं13 दिन पहले
थ्री डॉट्स स्कूल के छात्रों ने सबसे पहले छात्र को फंदे पर लटके हुए देखा। उन्होंने तुरन्त स्कूल प्रशासन को सूचना दी।

झुंझुनूं में शुक्रवार शाम 10वीं क्लास के स्टूडेंट ने पेरेंट्स के डर से सुसाइड कर लिया। बताया जा रहा है कि स्टूडेंट काफी दिनों से क्लास बंक कर रहा था और इसके बारे में घर वालों को पता चल गया। भूपेंद्र(17) का शव एक निजी स्कूल परिसर के पास मिला। सूचना मिलने पर डिप्टी शंकरलाल छाबा मौके पर पहुंचे और शव को मोर्चरी में रखवाया। भूपेंद्र शहर के टैगोर पब्लिक स्कूल में पढ़ता था। पुलिस को परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार भूपेंद्र लंबे समय से स्कूल नहीं जा रहा था। इसके बारे में पेरेंट्स को पता चल गया तो स्कूल जाकर इसकी जानकारी लेने की बात कही। भूपेंद्र डर गया और सुसाइड कर लिया। भूपेंद्र के बड़े भाई ने रिपोर्ट दी है कि वह ऑटो चलाता है। गांव से भूपेंद्र ऑटो में उसके साथ आया था। गुढ़ा मोड़ पर भूपेंद्र अपने दोस्त के यहां जाने की बात कहकर ऑटो से उतर गया। उसने बताया कि वहीं से सुबह स्कूल चला जाएगा। इसके बाद शाम को पुलिस से जानकारी मिली कि उसके भाई ने सुसाइड कर लिया है।

स्कूल के स्टूडेंट ने दी सूचना
थ्री डॉट्स स्कूल के छात्रों ने सबसे पहले छात्र को फंदे पर लटके हुए देखा। दरअसल, छात्र कैंटीन की ओर गए थे। यहां से पहाड़ी की ओर का इलाका नजर आता है। यहीं पर एक पेड़ पर किसी को फंदे पर झूलता देख डर गए थे। उन्होंने तुरन्त स्कूल प्रशासन को सूचना दी। इसके बाद स्कूल प्रबंधन ने पुलिस को सूचना दी। कोतवाली थानाधिकारी सुरेन्द्र देगड़ा ने बताया कि शव को मोर्चरी में रखवा दिया है।