पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सेहत से खिलवाड़:खाद्य पदार्थों की चिंताजनक रिपोर्ट : 26 में से छह सैंपल मिलावटी और जहरीले, इनमें मसाले भी शामिल

झुंझुनूं2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंडावा मोड़ कार्रवाई करते अधिकारी।   (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
मंडावा मोड़ कार्रवाई करते अधिकारी। (फाइल फोटो)
  • लाल मिर्च और मावा के सैंपल मिले जानलेवा, धनिया व हल्दी के साथ वनस्पति भी सेहत के लिए नुकसानदायक

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले में चलाए गए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के दाैरान लिए 96 सैंपलाें में से 26 की जांच रिपाेर्ट आ गई है। इन सैंपलाें में छह सैंपल मिलावटी व जहरीले मिले हैं। जिन सैंपलाें काे जानलेवा माना गया है उनमें झुंझुनूं शहर में बेची जा रही लाल मिर्च पाउड़र और पिलानी की एक मिठाई की दुकान का मावा शामिल है।

रिपाेर्ट आने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग इन पर कार्रवाई करने की तैयारी कर रहा है। 26 अक्टूबर से 25 नवंबर तक जिले में चले शुद्ध के लिए युद्ध अभियान में 110 प्रतिष्ठानाें पर जांच के बाद स्वास्थ्य विभाग ने 96 सैंपल जांच के लिए जयपुर लैब में भिजवाए थे। इन सैंपलाें काे 26 की रिपोर्ट आई। जिनमें छह सैंपल मिलावटी और घटिया है।

मसालों समेत सोनपपड़ी और बूंदी के सैंपल मिले असुरक्षित : सीएमएचओ डाॅ. छाेटेलाल गुर्जर ने बताया कि झुंझुनूं शहर के ओमसिंह का लाल मिर्च पाउड़र का सैंपल अनसेफ मिला है। इसके साथ ही पिलानी के मुनि मिष्ठान भंडार का मावा सैंपल अनसेफ मिला। मिस ब्रांड सैंपलाें में झुंझुनूं के सुरेन्द्र कुमार का धनिया पाउडर और अंकित का हल्दी पाउड़र मिलावटी निकला।

इसी तरह सब स्टेण्डर्ड सैंपलाें में झुंझुनूं शहर के लादूराम मदनलाल फर्म का अशाेका वनस्पति और सूरजगढ़ में स्पेशल टीम द्वारा पकड़े गए मिठाई काराेबारी माधाेसिंह के पास मिला बूंदी और साेनपापड़ी खाने याेग्य नहीं माना गया है। डाॅ. गुर्जर ने बताया कि अभी 70 सैंपलाें की रिपाेर्ट जल्द आने वाली है।
अनसेफ, सब स्टेण्डर्ड और मिस ब्रांड में ये हाेगी कार्रवाई
खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के अंतर्गत खाद्य निरीक्षक मिलावटी और घटिया सामग्री को लेकर कार्रवाई कराते हैं। इसमें तीन तरह की कार्रवाई हाेती है। अब रिपाेर्ट आने के बाद खाद्य निरीक्षक मिस ब्रांड और सब स्टेण्डर्ड काे लेकर एडीएम काेर्ट में सैंपल रिपाेर्ट के साथ इस्तगासा करेगे। वही अनसेफ सैंपलाें काे लेकर सीजेएम काेर्ट में इस्तागासा दायर किया जाएगा। जिसके आधार पर पुलिस रिपाेर्ट दर्ज करेगी और मामला चलेगा।

  • सैंपल रिपोर्ट आने के बाद मिस ब्रांड व सब स्टैंडर्ड को लेकर अतिरिक्त जिला कलेक्टर के यहां इस्तगासा पेश करते हैं। जहां जुर्माने की कार्रवाई होती है। इसमें मिस ब्रांड में 3 लाख और सब स्टेण्डर्ड में 5 लाख रूपए का जुर्माना हाेता है।
  • सिंपल अनसेफ, इंजीरियर्स टू हेल्थ और मिलावटी खानपान से मृत्यु होने पर खाद्य निरीक्षक सीजीएम कोर्ट में इस्तगासा पेश करते हैं। इनमें 7 साल के कारावास की सजा के साथ 10 लाख रूपए तक के भारी जुर्माने का भी प्रावधान है।
  • खाद्य निरीक्षक बड़ी कार्रवाई के दौरान घटिया या मिलावटी सामान मिलने के बाद सीधे तौर पर एफ आई आर दर्ज करा सकते हैं धारा 420 120 बी 272 व 273 में फूड इंस्पेक्टर मामला दर्ज करा सकता है। इसमें 6 महीने के कारावास की सजा होती है। फूड इंस्पेक्टर की रिपोर्ट के आधार पर सीएमएचओ भी मामला दर्ज करा सकते हैं।

जो शांतिभंग में पकड़े गए, उनके सैंपल भी मिलावटी
पुलिस की स्पेशल टीम की कार्रवाई में 3 नवंबर काे सूरजगढ़ में कार्रवाई में बरामद हुई दाे मिठाइयों के सैंपल भी सब स्टेण्डर्ड मिले हैं। यानि यदि पुलिस उसकाे नहीं पकड़ती ताे वाे स्वास्थ्य काे नुकसान पहुंचा सकते थे। स्पेशल टीम ने माधवसिंह राजपुराेहित काे पकड़ा था।

जिसके पास से बड़ी मात्रा में बूंदी, साेन पापड़ी और मावा पकड़ा गया था। माैके पर ही स्वास्थ्य विभाग काे बुलाकर 2 क्विटंल मावा, 50 किलाे कलाकंद, 50 किलाे बूंदी और 30 किलाे साेनपापड़ी नष्ट कराई थी। उसमें से लिए दाे सैंपल सब स्टेण्डर्ड के मिले हैं। जबकि स्वास्थ्य विभाग के एफआईआर दर्ज नहीं कराने के चलते पुलिस ने आराेपी काे शांतिभंग में पकड़ कर छाेड़ दिया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser