पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना से फिर 4 मौतें:लाडनूं में कोरोना से दो महिलाओं की मौत, यहां 10 दिनों में 20 मौतें हो चुकी; स्वास्थ्य विभाग का दावा 121 नए संक्रमित रोगी मिले

लाडनूं2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लाडनूं में कोरोना गाइड लाइन से अंत्येष्टि करते हुए। - Dainik Bhaskar
लाडनूं में कोरोना गाइड लाइन से अंत्येष्टि करते हुए।
  • धनकोली व अलखपुरा में भी कोरोना से एक-एक मौत

शहर में कोरोना महामारी का प्रकोप बेकाबू हो रहा है। शुक्रवार को यहां कोरोना से दो महिलाओं ने दम तोड़ दिया। कालीजी चौक में रहने वाली 61 वर्षीया महिला की सांसों ने साथ छोड़ दिया। वहीं गौरव पथ पर रहने वाली एक और महिला ने भी कोरोना के चलते अंतिम सांसें ली। दोनों का अंतिम संस्कार गाइड लाइन के अनुरूप किया गया। शुक्रवार को यहां 409 सैम्पलों की जांच रिपोर्ट आई, जिनमें 111 नए पॉजिटिव एवं 10 रि-पॉजिटीव रोगी मिले हैं।

शुक्रवार को यहां से 174 जनों के सैम्पल लिए गए। यहां से कुल 229 सैम्पलों की जांच रिपोर्ट अभी पेंडिंग है। यहां अब तक कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 2246 है, इनमें से 476 एक्टिव केस है। यहां चिकित्सालय के कोविड वार्ड में शुक्रवार को 24 कोरोना मरीज भर्ती थे, जिनमें से 20 मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर थे। कोविड केयर सेंटर जसवंतगढ़ में भर्ती 6 मरीजों में से 2 ऑक्सीजन सपोर्ट पर थे। यहां भरे हुए 97 सिलेंडरों में से 26 भरे हुए है। यहां 13 सिलेंडर खाली है और 43 सिलेंडर नागौर भेजे गए है।

धनकोली के एलआईसी कार्मिक व अलखपुरा में सब्जी विक्रेता की कोरोना से हुई मौत
मौलासर| कोरोना महामारी गांवों तक पहुंच चुकी है। अब भी ध्यान नहीं रखा तो इसके दुष्परिणाम हमें भुगतने पड़ सकते हैं। मौलासर उपखण्ड के गांव धनकोली निवासी मोहनलाल तेतरवाल जो वर्तमान में कुचामन एलआईसी में एचबीए पोस्ट पर कार्यरत है। तेतरवाल के चार दिन पहले जांच में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर इलाज के लिए मकराना ले जाया गया, जहां प्राथमिक इलाज के बाद अजमेर रेफर किया गया, जिसका इलाज के दौरान गुरुवार को निधन हो गया। जबकि अलखपुरा निवासी युवक जो मौलासर के झाड़ोद रोड पर सब्जी विक्रेता है। इस युवक की भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई, जिस पर उपचार के लिए डीडवाना ले जाया गया, लेकिन बीती देर रात दम तोड़ दिया। दोनों का दाह संस्कार कोविड 19 की गाइड लाइन के अनुसार किया गया।

डॉ. की पर्ची से ही लिए जाएंगे सैंपल
बोरावड़| कस्बे की सीएचसी में अब केवल डॉक्टर के पर्ची पर लिखने के बाद ही कोरोना के सैम्पल लिए जाएंगे। सीएचसी प्रभारी डॉ. सुनील बिश्नोई ने बताया कि अब केवल उसी व्यक्ति के कोरोना जांच की जाएगी, जिसमें डॉक्टरों को कोई कोरोना का लक्षण दिखाई देगा। वहीं दूसरी ओर कोरोना के बढ़ते हुए मामलों के बाद भी बोरावड़ में पिछले तीन दिनों में एक भी वैक्सीन नहीं लगाई गई है। जिसका मुख्य कारण सीएमएचओ कार्यालय से वैक्सीन का आवंटन ही नहीं हो पा रहा है। मकराना ब्लॉक में मकराना के अलावा तीन सीएचसी है। लेकिन कोरोना की वैक्सीन का आवंटन केवल ब्लॉक ऑफिस के नाम से हो रहा है। जिसके चलते बोरावड़ को कम वैक्सीन मिल रही है। डॉ. सुनील बिश्नोई ने बताया कि वैक्सीन नहीं होने के कारण शुक्रवार को भी टीकाकरण नहीं हो सका।

खबरें और भी हैं...