पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रिकार्ड गायब:सीकर रोडवेज डिपो से 8 साल का ओवरटाइम का हिसाब गायब, 200 कर्मचारियाें काे 1 कराेड़ से ज्यादा का नुकसान

सीकर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सीकर, जोनल मैनेजर का घेराव कर आक्रोश जताते रोडवेज यूनियन के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
सीकर, जोनल मैनेजर का घेराव कर आक्रोश जताते रोडवेज यूनियन के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता।

राेडवेज आगार सीकर के 200 से ज्यादा कर्मचारियाें काे प्रबंधन की अव्यवस्था की वजह से 1 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान उठाना पड़ रहा है। मामला ये है कि राेडवेज आगार प्रबंधन के वर्ष 1998 से वर्ष 2006 तक की अवधि के रिकाॅर्ड से 200 से ज्यादा ड्राइवर-कंडक्टराें का आठ साल का ओवर टाइम का हिसाब गायब हाे चुका है। इस वजह से निगम कर्मचारियाें में काफी आक्राेश है।

मामले काे लेकर बुधवार काे राेडवेज के कर्मचारियाें ने बस डिपाे मुख्यालय पर प्रबंधन के खिलाफ काफी नारे-बाजी कर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी कर्मचारियाें काे जब जाेनल मैनेजर रवि साेनी के सीकर आने की जानकारी मिली ताे उन्हाेंने बस डिपाे ही पड़ाव डाल दिया। दाेपहर 2 बजे सीकर बस डिपाे पहुंचे जाेनल मैनेजर काे एक घंटे तक ओवर टाइम के हिसाब की मांग काे लेकर मुख्यप्रबंधक कार्यालय में घेरे रखा।

कर्मचारियाें ने सेवानिवृत कर्मचारी नेता रामदेव सिंह टांकरिया व सीटू के आगार सचिव सांवरमल की अगवानी में साेनी से रिकाॅर्ड गायब हाेने के मामले में जवाब सवाल करते रहे। मामले की गंभीरता काे देखते हुए साेनी ने आगार प्रबंधक भागीरथ सिंह से जांच रिपाेर्ट पेश करने के निर्देश दिए।

समझाइश के बावजूद कर्मचारी सहमत नहीं हुए ताे साेनी ने मुख्य प्रबंधक, लेखा प्रभारी अधिकारी व दाे कर्मचारी संगठनाें के पदाधिकारियाें काे तीन दिन बाद जयपुर बुलाकर समाधान का आश्वासन दिया। मुख्य प्रबंधक काे कर्मचारियाें से जुड़े मामले वार्ता से सुलझाने के निर्देश दिए।

डिपो की व्यवस्थाओं का लिया जायजा
साेनी ने कर्मचारियाें की समस्याओं की सुनवाई के बाद उन्हाेंने राेडवेज की आगार कार्यशाला की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। मुख्यप्रबंधक काे बंद बसाें का संचालन करने, सफाई व्यवस्थाएं बनाए रखने के निर्देश दिए।

14 लाख के बजाय ढाई लाख का ही भुगतान
सेवानिवृत्त कर्मचारी रुघवीर सिंह बारेठ ने बताया कि वर्ष 1996 से 2006 तक उनका ओवर टाइम भुगतान 14 लाख 50 हजार रुपए बन रहा है। उसे निगम के द्वारा सेवानिवृति के समय मात्र ढाई लाख रुपए का ही भुगतान किया गया है। ऐसी ही समस्या निगम के अन्य कई कर्मचारियाें की है।

कर्मचारियाें ने सीएम, सीएमडी और संभागीय आयुक्त काे शिकायत दी
मामले में राेडवेज कर्मचारी संगठनाें के पदाधिकारियाें ने राेडवेज प्रबंधन के साथ ही मुख्य मंत्री, कलेक्टर, संभागीय आयुक्त काे भी इस संबंध में ज्ञापन भिजवाकर शिकायत की है। टाकरिया ने बताया कि समस्या का समाधान नहीं हुआ ताे राेडवेज कर्मचारी संगठनाें की ओर से उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। कर्मचारियाें ने सेवानिवृति के बकाया सभी परिलाभ दिलाने की मांग की।

प्रदर्शन में गोपाल सिंह गढवाल, रामदेवसिंह टाकरिया, लिखमाराम राम बगडिय़ा, रामचंद्र ओला,बालमुकुंद माथुर,अमरुदीन,शोकतअली गोड,रामदेवसिंह भास्कर, रविशंकर शर्मा, हरलाल कुलहरि, हरलाल थोरी, विजयसिंह छपारा, रामदयाल ढाका, धन्नाराम चोधरी, ऊमाराम सारण रामदेवसिंह धानिया, रणजीत सिंह बेरी तथा सीटू सचिव सांवरमल यादव ऐटक सचिव चंन्द्र सिंह भूखर,चौथमल परसवाल आदि शामिल हुए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें