पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धर्म समाज:सर्व पितृ अमावस्या आज, कल से प्रारंभ हो जाएगा अधिकमास

सीकर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • संक्रमण के चलते नहीं होंगे सामूहिक तर्पण

श्राद्ध पक्ष का अंतिम दिन सर्वपितृ अमावस्या गुरुवार को है। इस दिन तर्पण के साथ पितरों की विदाई की जाएगी। पंडितों के अनुसार, इसे सर्वपितृ मोक्ष अमावस्या कहा जाता है, क्योंकि इस दिन उन मृत लोगों के लिए पिंडदान, श्राद्ध और तर्पण कर्म किए जाते हैं, जिनकी मृत्यु तिथि मालूम नहीं होती है।

अगर किसी कारण से मृत सदस्य का श्राद्ध नहीं कर पाए हैं तो अमावस्या पर श्राद्ध कर्म किए जा सकते हैं। पितृ मोक्ष अमावस्या पर सभी ज्ञात-अज्ञात पितरों के पिंडदान आदि शुभ कर्म करना चाहिए।

अधिकमास 16 अक्टूबर तक, 17 से शुरू हाेंगे नवरात्र : पितृपक्ष के बाद अधिकमास प्रारंभ हो जाएगा। इस बार पितृपक्ष समाप्त होने के एक महीने बाद नवरात्र शुरू होगा। अधिकमास 18 सितंबर से शुरू हाेकर 16 अक्टूबर तक रहेगा। इसमें भगवान विष्णु की पूजा होती है। अधिकमास खत्म होने के बाद 17 अक्टूबर से शारदीय नवरात्र शुरू होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें