कोरोना बड़ा संकट:सभी अस्पतालों में बेड फुल, 37% हुई संक्रमण दर, मामूली राहत, 501 मरीज ठीक हुए

सीकर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिसायतियान मोहल्ले में लोग सड़कों पर घूम रहे थे। कई ने मास्क नहीं पहन रखा था। जैसे ही पुलिस पहुंची, लोग इधर-उधर भागने लगे। - Dainik Bhaskar
बिसायतियान मोहल्ले में लोग सड़कों पर घूम रहे थे। कई ने मास्क नहीं पहन रखा था। जैसे ही पुलिस पहुंची, लोग इधर-उधर भागने लगे।
  • कोरोना 16 हजार पार; पहली बार 810 पॉजिटिव, 10 मौत भी हुई

एक दिन में 810 नए कोरोना रोगी और 10 मौत...यह काेराेनाकाल के सबसे दर्दनाक आंकड़े हैं। स्थिति विकराल होती जा रही है...सांवली में 300 बेड के कोविड अस्पताल के सभी बेड फुल हो गए हैं। अब 50 बेड का एक वार्ड और शुरू करने की तैयारी की जा रही है।

इसके लिए कल्याण आरोग्य सदन से एक और विंग मांगी गई है। प्राइवेट अस्पतालों के 93 से ज्यादा बेड पहले से ही फुल हो चुके हैं। सांवली में बुधवार को 10 कोरोना मरीजों की मौत हुई। इनमें श्यामगढ़, सबलपुरा, धोद रोड निवासी व्यक्तियों ने दम तोड़ दिया।

इनके अलावा पिपराली ब्लाॅक के नांगल अभयपुरा के 76 वर्षीय बुजुर्ग, राधाकिशनपुरा निवासी 55 वर्षीय महिला, वार्ड 17 निवासी 69 वर्षीय महिला की सांवली कोविड अस्पताल में मौत हुई है। इसके अलावा रतनगढ़ के एक मरीज ने भी दम तोड़ा है।

राहत की बात सिर्फ यह रही कि बुधवार को 501 लोगों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया। एक दिन में स्वस्थ होने वालों का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। 16233 पॉजिटिव,10617 निगेटिव : अब तक 2 लाख 15 हजार 833 सैंपलों की जांच की गई है। 16,233 पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं 10,617 स्वस्थ हो चुके हैं।

चिंता : 10 दिन पहले 100 में से 18 पॉजिटिव, अब 37
जिले में संक्रमण की दर 37 फीसदी तक पहुंच गई है। 10 दिन पहले यह दर 18 फीसदी थी। संक्रमण दर 37 पहुंचने का सीधा मतलब यह है कि अब 100 सैंपल में से 37 पॉजिटिव मिल रहे हैं। एक्सपर्ट्स कहते हैं-यदि ऐसे ही संक्रमण का ग्राफ बढ़ता रहा तो एक सप्ताह में ही यह 40 से ज्यादा हो जाएगी।
चुनौती : ऑक्सीजन-इंजेक्शन के बाद बेड भी कम पड़ने लगे
ऑक्सीजन बेड फुल होने और रेडमेसिविर कम पड़ने के बाद अब बेड भी कम पड़ने लगे हैं। निजी अस्पतालों के साथ सांवली में सभी बेड फुल हो गए हंै। वहीं सीकर में 24-24 घंटे ड्यूटी करके स्वास्थ्यकर्मी भी थक चुके हैं। बोले-उन्हें अब सेहत खराब होने की चिंता सताने लगी है। यह मामला विधायक व कलेक्टर तक भी पहुंचा। कलेक्टर स्टाफ बढ़ाने की बात कर रहे हैं।
चेतावनी : अब ग्रामीण क्षेत्र में भी फैलने लगा संक्रमण
बुधवार को दांता ब्लॉक में सबसे ज्यादा 147 पॉजिटिव मिले हैं। कूदन ब्लॉक में 143, खंडेला ब्लॉक में 117, सीकर शहर में 93, फतेहपुर क्षेत्र में 66, लक्ष्मणगढ़ क्षेत्र में 87, नीमकाथाना ब्लॉक में 13, पिपराली क्षेत्र में 20, श्रीमाधोपुर ब्लॉक में 124 पॉजिटिव मिले हैं। क्लोज संपर्क में आने से 280 संक्रमित हुए हैं।

खबरें और भी हैं...